Saturday , December 16 2017

ख़ाती इतालवी( इटालवी) बहरी ओहदेदारों की ख़ातिर मुदारात की जा रही है: अपोज़ीशन

वज़ीर-ए-आला केरला ओम्मेन चंडी ने आज इस बात का तीक़न देते हुए कि मछेरों के क़त्ल मुआमले की मुनासिब तहक़ीक़ात जारी हैं और इतालवी बहरीया के अरकान के साथ कोई रियायत नहीं की जाएगी। असेंबली में अपने ख़िताब के दौरान उन्होंने कहा कि हुकूमत म

वज़ीर-ए-आला केरला ओम्मेन चंडी ने आज इस बात का तीक़न देते हुए कि मछेरों के क़त्ल मुआमले की मुनासिब तहक़ीक़ात जारी हैं और इतालवी बहरीया के अरकान के साथ कोई रियायत नहीं की जाएगी। असेंबली में अपने ख़िताब के दौरान उन्होंने कहा कि हुकूमत महलूक मछेरों के अरकान ख़ानदान को इंसाफ़ दिए जाने पर अपनी तमाम तर तवज्जा मर्कूज़ किए हुए है और यही हुकूमत की अव्वलीन तर्जीह है। उन्हों ने इस मौक़ा पर कांग्रेस की क़ियादत वाली यू डी एफ़ हुकूमत को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि मछेरों के तहफ़्फ़ुज़ में हुकूमत बुरी तरह से नाकाम हो गई है।

एल डी एफ़ अपोज़ीशन ने ऐवान से वाक आउट किया। इनका कहना है कि इतालवी बहरीया के जिन दो ओहदेदारों को गिरफ़्तार किया गया है, उन्हें मुल्ज़िमीन नहीं बल्कि मेहमान समझा जा रहा है और उनकी ख़ातिर मुदारात की जा रही है। जिस तरह तीन मछेरों को गोली मार कर हलाक किया गया, इससे वाज़िह हो जाता है कि साहिली तहफ़्फ़ुज़ का निज़ाम कितना नाक़िस है।

इस पर मिस्टर चंडी ने अपोज़ीशन के इल्ज़ाम को मुस्तर्द करते हुए कहा कि इतालवी बहरी ओहदेदारों के ख़िलाफ़ एक इंतिहाई मज़बूत केस तैयार किया जा रहा है और उन पर ताअज़ीरात-ए-हिंद के तहत मुक़द्दमात चलाते हुए सज़ा तजवीज़ की जाएगी।

TOPPOPULARRECENT