Wednesday , September 26 2018

ग़रीब अक़लियती लड़कीयों की शादी के लिए इमदाद शादी मुबारक इस्कीम

तेलंगाना हुकूमत ने ग़रीब अक़लियती लड़कीयों की शादी के लिए मआशी इमदाद पर मुश्तमिल इस्कीम शादी मुबारक का एलान किया है।

तेलंगाना हुकूमत ने ग़रीब अक़लियती लड़कीयों की शादी के लिए मआशी इमदाद पर मुश्तमिल इस्कीम शादी मुबारक का एलान किया है।

इस सिलसिले में हुकूमत की तरफ से अहकामात जारी किए गए जिस में इस्कीम से इस्तेफ़ादा के लिए रहनुमायाना ख़ुतूत की भी सर अहित की गई है।

शादी मुबारक इस्कीम पर 2 अक्टूबर से अमल आवरी का आग़ाज़ होगा जिस के तहत हर ग़रीब लड़की को 51 हज़ार रुपये बतौर इमदाद इस के बैंक एकाऊंट में मुंतक़िल किए जाऐंगे।

प्रिंसिपल सेक्रेटरी जय रेमंड पीटर की तरफ से जारी करदा जी ओ एम एस नंबर 4 में कहा गया हैके हुकूमत ने साबिक़ में इजतिमाई शादीयों से मुताल्लिक़ इस्कीम पर अमल आवरी का जायज़ा लिया और ग़रीब ख़ानदानों की बेहतर अंदाज़ में मआशी इमदाद के लिए इस इस्कीम की जगह नई इस्कीम मुतआरिफ़ कराने का फ़ैसला किया है।

शादी मुबारक इस्कीम के लिए जो रहनुमायाना ख़ुतूत जारी किए गए उनके मुताबिक़ सिर्फ़ अक़लियती तबके से ताल्लुक़ रखने वाली ग़ैर शादीशुदा लड़कीयां इमदाद की मुस्तहिक़ होंगी, ये लड़कीयां तेलंगाना से ताल्लुक़ रखती हूँ और उनकी उम्र शादी के वक़्त 18साल मुकम्मिल होचुकी हो। 2 अक्टूबर 2014 या इस के बाद होने वाली शादीयों के लिए ही ये इमदाद दी जाएगी। लड़की के वालिदैन की सालाना आमदनी 2 लाख से ज़ाइद नहीं होनी चाहीए। इस इस्कीम के लिए दरख़ास्तें epasswebsite.cgg.gov.in पर किसी मी सेवा सेंटर से ऑनलाइन दाख़िल की जा सकती है।

उम्मीदवार को सदाक़त नामा पैदाइश, कम्यूनिटी सर्टीफ़िकेट, इनकम सर्टीफ़िकेट, आधार कार्ड, बैंक पास बुक की ज़ीराक्स कापी, दावतनामा शादी ( अगर दस्तयाब हो), शादी की तस्वीर, ग्राम पंचायत, चर्च, मस्जिद या किसी और इदारे का मकतूब जिस ने शादी अंजाम दी हो।

एस एससी हाल टिकट नंबर और कामयाबी का साल जैसी तफ़सीलात पेश करनी होंगी। शादी मुबारक इस्कीम को किसी और इस्कीम से मरबूत नहीं किया जाएगा।

इस इस्कीम से इस्तिफ़ादा ज़िंदगी में सिर्फ़ एक मर्तबा किया जा सकेगा। मुताल्लिक़ा ज़िला के डिस्ट्रिक्ट माइनॉरिटी वेलफेयर ऑफीसर तमाम दस्तावेज़ात का जायज़ा लेने के बाद दरख़ास्त को मंज़ूरी देंगे और लड़की के बैंक अकाउंट में इरक़म मुंतक़िल की जाएगी।

जी ओ में कमिशनर‍ ओ‍ डायरेक्टर अक़लियती बहबूद को इस इस्कीम की मुनासिब तशहीर की हिदायत दी गई है। वाज़िह रहे के चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ ने साबिक़ कांग्रेस हुकूमत की इजतिमाई शादीयों से मुताल्लिक़ इस्कीम पर अमल आवरी का जायज़ा लेने के बाद उसे ग़ैर इतमीनान बख़श क़रार दिया था। उन्होंने शादी के लिए ज़रूरीयात-ए-ज़िंदगी का सामान फ़राहम करने के तरीका-ए-कार को ख़त्म करने की हिदायत दी और ग़रीब ख़ानदानों के लिए 51 हज़ार रुपये की इमदाद का फ़ैसला किया। आइन्दा चार माह में हुकूमत 40 हज़ार ख़ानदानों को इस इस्कीम से इस्तिफ़ादा का मंसूबा रखती है।

TOPPOPULARRECENT