ग़िज़ाई अजनास की क़ीमतों में इज़ाफ़ा परेशानकुन : मुकर्जी

ग़िज़ाई अजनास की क़ीमतों में इज़ाफ़ा परेशानकुन : मुकर्जी
ग़िज़ाई अजनास की क़ीमतों में इज़ाफ़ा के रुजहान को परेशान कुन क़रार देते हुए मर्कज़ी वज़ीर फायनेंस परनब मुकर्जी ने आज कहा कि हुकूमत सरबराही के शोबा में रुकावटों को दूर करने फ़ौरी वाज़िह इक़्दामात करेगी ताकि क़ीमतों की सूरत-ए-हाल मामूल पर आ जा

ग़िज़ाई अजनास की क़ीमतों में इज़ाफ़ा के रुजहान को परेशान कुन क़रार देते हुए मर्कज़ी वज़ीर फायनेंस परनब मुकर्जी ने आज कहा कि हुकूमत सरबराही के शोबा में रुकावटों को दूर करने फ़ौरी वाज़िह इक़्दामात करेगी ताकि क़ीमतों की सूरत-ए-हाल मामूल पर आ जाए। उन्होंने इफ़रात-ए-ज़र की गुज़शता माह के आदाद-ओ-शुमार पर ब हैसीयत मजमूई तब्सिरा करते हुए कहा कि माह मार्च में ग़िज़ाई इफ़रात-ए-ज़र में इज़ाफ़ा एक परेशानकुन अंसर है।

मार्च में इफ़रात-ए-ज़र में मामूली सी कमी हुई। उन्होंने निशानदेही की कि हुकूमत 6.5 फ़ीसद के क़रीब इफ़रात-ए-ज़र की शरह लाने केलिए चौकसी इख्तेयार कर चुकी है और सरबराही में हाएल रुकावटों को दूर करने फ़ौरी इक़दामात किए जा रहे हैं। ताहम उन्होंने उम्मीद ज़ाहिर की कि वक़्त गुज़रने के साथ साथ इफ़रात-ए-ज़र मोतदिल सतह पर आ जाएगा।

माह मार्च में तरकारीयों की क़ीमत में 30.57 , दूध की क़ीमत में 15.29 , आलूओं की क़ीमत में 11.60 फ़ीसद इज़ाफ़ा रिकार्ड किया गया था। दालों की क़ीमत में 10.05 इज़ाफ़ा देखा गया था।

Top Stories