Monday , January 22 2018

ग़िज़ाई तमानियत बिल की पार्ल्यामेंट में मंज़ूरी की सूरत-ए-हाल गैरयक़िनी

बाअज़ रियासतों बिशमोल दिल्ली में राजीवगांधी की सालगिरा 20 अगस्त को क़ानून के नफ़ाज़ की तैयारियां

बाअज़ रियासतों बिशमोल दिल्ली में राजीवगांधी की सालगिरा 20 अगस्त को क़ानून के नफ़ाज़ की तैयारियां
जारीये हफ़्ता पुरअज़म ग़िज़ाई तमानियत बिल की पार्ल्यामेंट में मंज़ूरी गैर‌कीनी सूरत-ए-हाल का शिकार होगई जबकि कांग्रेस इस क़ानून पर अपनी ज़ेर इक़तेदार रियास्तों बिशमोल दिल्ली में अमल आवरी का मंसूबा बना रही है । 20 अगस्त को आँजहानी वज़ीर-ए-आज़म राजीव गांधी की यौमे पैदाइश तक़रीब के मौक़े पर इस क़ानून की अमल आवरी मुम्किन है ।

तेलंगाना के जारी मानसून इजलास पर गहरे पड़ रहे हैं जिसका आग़ाज़ 5 अगस्त से होचुका है । लोक सभा में कई अहम मंज़ूरीयां बाक़ी हैं जबकि बी जे पी कोलगेट मसला जारीया हफ़्ता उठाने पर अटल है क्योंकी इस के बारे में दस्तावेज़ात लापता होने का इन्किशाफ़ हुआ है । पार्टी क़ाइदीन ने कहा कि कोयला अस्क़ाम बी जे पी की जानिब से पार्ल्यामेंट में लाज़िमन उठाया जाएगा । कांग्रेस एसा मालूम होता है कि मंगल के दिन ग़िज़ाई तमानियत बिल मंज़ूर कराने का तहय्या किये हुए है जो राजीवगांधी की यौमे पैदाइश का दिन है ।

लोक सभा तवक़्क़ो है कि मौजूदा रुकन दिलीप सिंह जोदेव के इंतेक़ाल पर ताज़ियत पेश करने के बाद मुल्तवी कर दिया जाएगा। जोदेव बी जे पी के रुकन पार्ल्यामेंट थे । ग़िज़ाई तमानियत बिल के अलावा हुसूल अराज़ी बिल्कुल ग़ौर केलिए पेश किया जाएगा और एक दिन बाद दोनों बिल इमकान है कि आइन्दा लोक सभा इंतेख़ाबात में कांग्रेस पार्टी की क़िस्मत बदल देने वाले साबित होंगे । वज़ीर ममलकत बराए पारलीमानी उमोर राजीव शुक्ला ने कहा कि हुकूमत हर मुम्किन कोशिश करेगी कि तारीख साज़ ग़िज़ाई तमानियत बिल 20 अगस्त को ही मंज़ूर होजाए ।

उन्हों ने कहा कि हम इस मसले की यकसूई बात चीत के ज़रीये करलींगे और इस के बाद 20 तारीख को उसकी मंज़ूरी पर ज़ोर देंगे । कांग्रेस ज़ेर इक़तिदार बाअज़ रियासतों जैसे दिल्ली ने ऐलान करदिया है कि आँजहानी वज़ीर-ए-आज़म राजीव गांधी की यौमे पैदाइश तक़रीब के मौक़े पर इस क़ानून पर अमल आवरी शुरू करदी जाएगी । लेकिन तेलुगुदेशम पार्टी के एहतेजाजी अरकान लोक सभा और राज्य सभा में ऐवान के वस्त में जमा होकर अपना एहतेजाज जारी रखने का तहय्या किये हुए हैं।

तेलुगुदेशम अरकाने पार्ल्यामेंट सीमा । आंध्रा इलाक़े के लिए इंसाफ़ तल्ब करते हुए अपनी जद्द-ओ-जहद जारी रखे हुए हैं। उनके एहतेजाज का आग़ाज़ मानसून इजलास के 5 अगस्त को आग़ाज़ के साथ ही हो गया था। एसा कोई प्रोग्राम नहीं है कि एहतेजाज रोक दिया जाएगा । बसूरत दीगर अवाम हमें माफ़ नहीं करेंगे । नारा मिली सेवा प्रसाद रुकन पार्लयामेंट ने ये इद्दिआ करते हुए कहा कि तलगोदेशम अरकान पार्ल्यमंट इकया दो दिन में सदर पार्टी चंद्रा बाबू नायडू से मुलाक़ात करने वाले हैं , इस के बाद ही मुस्तक़बिल के लायेहा-ए-अमल का तीन किया जाएगा

TOPPOPULARRECENT