Sunday , January 21 2018

ग़ैर मजाज़ तामीरात को बाक़ायदा बनाने अहकामात की इजराई में ताख़ीर

हैदराबाद 30 अक्टूबर: ग्रेटर हैदराबाद मुंसिपल कारपोरेशन हुदूद में ग़ैर मजाज़ तामीरात-ओ-ग़ैर मजाज़ लेआउट्स को बाक़ायदा बनाने हुकूमत की कोशिशों और अहकामात की इजराई के लिए हफ़्ता दस दिन ताख़ीर होने का इमकान है क्युंकि ग़ैर मजाज़ तामीरात-ओ-लेआउट्स को बाक़ायदा बनाने जारी किए जानेवाले रहनुमायाना ख़ुतूत को क़तईयत देने के लिए कुछ वक़्त दरकार होने की इत्तेलाआत हैं।

सरकारी ज़राए ने ये बात बताई और कहा कि ग़ैर मजाज़ तामीरात-ओ-लेआउट्स को बाक़ादा बनाने से मुताल्लिक़ रहनुमायाना ख़ुतूत मुरत्तिब कर लिया गया है लेकिन इस मुसव्वदा को ना ही महिकमा क़ानून-ओ-इन्साफ़ और ना ही चीफ़ मिनिस्टर से मुताल्लिक़ा महिकमा बलदी नज़म-ओ-नसक़ को किसी किस्म का ग्रीन सिगनल नहीं मिला है, ताहम कमिशनर ग्रेटर हैदराबाद मुंसिपल कारपोरेशन सोमेश कुमार ने वज़ीर इन्फ़ार्मेशन टेक्नोलोजी-ओ-पंचायत राज के टी रामा राव‌ से मुलाक़ात करके जी एच्च एम सी हुदूद में ग़ैर मजाज़ लेआउट्स के प्लॉट्स को बाक़ायदा बनाए जाने की सूरत में तामीराती सरगर्मीयों में मज़ीद तेज़ी पैदा होने से मुताल्लिक़ वाक़िफ़ करवाया और इस बात की ख़ाहिश की के बाक़ायदा बनाने के लिए जारी किए जानेवाले अहकामात से क़बल किसी इमकानी क़ानूनी पेचीदगीयों-ओ-क़ानूनी मसाइल पैदा ना होने के लिए सेक्रेटरी महिकमा क़ानून-ओ-इन्साफ़ से तबादला-ए-ख़्याल करना बहुत बेहतर होगा।

TOPPOPULARRECENT