Monday , December 18 2017

ग़ज़ल श्रीरीनिवास की कांग्रेस में शमूलीयत

हैदराबाद 13 मई: मुमताज़ ग़ज़ल गुलूकार श्रीरीनिवास ने आज कांग्रेस पार्टी में शमूलीयत इख़तियार करली। साबिक़ सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी‍ रुक्ने रियास्ती क़ानूनसाज़ कौंसल डी श्रीरीनिवास ने ग़ज़ल गुलूकार श्रीरीनिवास के कांग्रेस पार्टी में

हैदराबाद 13 मई: मुमताज़ ग़ज़ल गुलूकार श्रीरीनिवास ने आज कांग्रेस पार्टी में शमूलीयत इख़तियार करली। साबिक़ सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी‍ रुक्ने रियास्ती क़ानूनसाज़ कौंसल डी श्रीरीनिवास ने ग़ज़ल गुलूकार श्रीरीनिवास के कांग्रेस पार्टी में शामिल होने का ख़ौरमक़दम किया और गांधी भवन में उन्हें कांग्रेस पार्टी का खंडवा और शाल उढ़ाकर पार्टी में शामिल करने का एलान क्या।

इस मौके पर ग़ज़ल गुलूकार श्रीरीनिवास ने इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए कहा कि उन्हें क़ौमी पार्टी जैसे कांग्रेस पार्टी में शामिल होने की बार बार उनकी वालिदा और दादा वग़ैरा ने काइ मर्तबा मश्वराह दे रहे थे और इस मश्वरे की रोशनी में ही वो आज कांग्रेस पार्टी में शमूलीयत इख़तियार की है।

श्रीरीनिवास मग़रिबी गोदावरी ज़िला के पाला कोल से ताल्लुक़ रखते हैं और उन्होंने आलमी सतह पर तेलुगू ग़ज़ल को फ़रोग़ देते हुए अपना एक अहम रोल अदा क्या।

इन का असल नाम केसराजो श्रीरीनिवास है लेकिन वो हर सतह पर ग़ज़ल श्रीरीनिवास के नाम से ही शौहरत रखते हैं। उन्होंने साल 1986 से तेलुगू ग़ज़ल गाने का आग़ाज़ किया और अपने ग़ज़ल प्रोग्राम्स ना सिर्फ़ अंदरून-ए-मुल्क बल्के बैन-उल-अक़वामी सतह पर कई एक मुल्कों में प्रोग्राम्स पेश किए।

TOPPOPULARRECENT