Tuesday , December 12 2017

ग़ज़ा की तामीर-ए-नौ के लिए 20करोड़ डालर अमरीकी इमदाद

इसराईली जंग की तबाह कारीयों से निमटने केलिए 4अरब डालर की ज़रूरत

इसराईली जंग की तबाह कारीयों से निमटने केलिए 4अरब डालर की ज़रूरत

ग़ज़ा में इसराईली हमलों से होने वाली तबाही के बाद अमरीका ने इमदाद देने के ऐलान किया है। ग़ज़ा की तामीर-ए-नौ केलिए 20करोड़ डॉलर्स इमदाद दी जाएगी। इसराईली बमबारी से ग़ज़ा में सब से ज़्यादा तबाही आई है जहां तामीर-ए-नौ केलिए 4अरब डॉलर्स की ज़रूरत है । फ़लस्तीनी हुक्काम ने क़ाहिरा में आलमी इमदादी बिरादरी की कान्फ्रेंस में अपील की है कि उसे हालिया जंग से होने वाली तबाही से निमटने केलिए 4अरब डालर दरकार हैं।

इस जंग के दौरान ग़ज़ा के कम अज़ कम एक लाख रिहायशी बेघर होगए थे और इलाक़े की ज़्यादा तर सरकारी इमारतें और दीगर सहूलयात तबाह होगई थीं । 26 अगस्त को एक अमन मुआहिदे के नतीजे में ख़त्म होने वाली सात हफ़्तों की इस जंग में 2,100 फ़लस्तीनी हलाक हुए जिन में अक्सरीयत आम शहरीयों की थी।

दूसरी जानिब इसराईल के 66फ़ौजी और सात आम शहरी हलाक हुए थे। अमरीका के वज़ीर-ए‍-ख़ारिजा जान कैरी ने इतवार को क़ाहिरा कान्फ्रेंस के मौक़े पर कहा कि जूं जूं मौसिम-ए-सर्मा क़रीब आरहा है ज़रूरत इस बात की है कि हज़ारों बेघर फ़लस्तीनीयों की फ़ौरी मदद की जाये।

ग़ज़ा के लोगों को हमारी फ़ौरी मदद की ज़रूरत है कल नहीं अगले हफ़्ते नहीं बल्कि ग़ज़ा को ये मदद अभी चाहिए।

TOPPOPULARRECENT