Saturday , December 16 2017

ज़ायरा वसीम को माफ़ी मांगने पर मजबूर किया गया -ओवैसी

एमआईएम के अध्यक्ष और हैदराबाद से संसद असदउद्दीन ओवैसी ने दंगल में युवा बॉक्सर का क़िरदार निभा चुकी ज़ायरा वसीम की कश्मीर की मुख्यमंत्री मेहबूबा मुफ़्ती के साथ मुलाक़ात पर माफ़ी मांगने को लेकर कहा की दबाव रणनीति के तहत ज़ायरा को माफ़ी मांगने पर मजबूर किया गया जो की बेबुनियाद और अनावश्यक थी।

जायरा वसीम, दंगल में गीता फोगट का किरदार निभा चुकी है। उसने शनिवार को हुई मुफ़्ती के साथ मुलाकात पर सोमवार को लोगों से अनजाने में उन्हें चोट पहुचाने को लेकर माफ़ी मांगी।

ओवैसी ने पीटीआई को बताया की किसी पर भी कुछ करने और ना करने को लेकर दबाव बनाया जा सकता खासकर एक 16 वर्षीय लड़की पर। ऐसा करना पूरी तरह से बेबुनियाद और अनुचित है। उस लड़की पर इतना दबाव बनाया गया की वो माफ़ी मांगने पर मजबूर हो गयी जिसकी आवश्यकता ही नहीं थी।

आगे ओवैसी ने कहा कि जो लोग ज़ायरा के साथ सहानुभूति दिखा रहे हैं उनकी यह हमदर्दी उन बच्चियो के लिए कहा चली गयी थी जिन बच्चियो की पैलेट गन द्वारा आँखों से अंधा कर दिया गया।

ओवैसी ने यह भी कहा कि यह घटना जम्मू कश्मीर के लोगों का वहा की सरकार पर भरोसे की कमी को उजागर करती है। इस से यह पता चलता है की वहा के लोगो को बीजेपी-पीडीपी सरकार पर कोई भरोसा बाकी नहीं बचा है।

TOPPOPULARRECENT