Monday , December 11 2017

ज़िंदगी में सिर्फ़ एक मर्तबा हज की सहूलत

हैदराबाद 03 फ़बरोरी आंध्र प्रदेश स्टेट हज कमेटी ने हज 2013 के लिए दरख़ास्त फ़ार्म जारी और कुबूल करने के तरीका-ए-कार को क़तईयत दे दी है । हज कमेटी का एक अहमर मीटिंग आज दफ़्तर हज कमेटी हज हाइज़ नामपली में मुनाक़िद हुआ , जिस की सदारत सदर नशीन हज

हैदराबाद 03 फ़बरोरी आंध्र प्रदेश स्टेट हज कमेटी ने हज 2013 के लिए दरख़ास्त फ़ार्म जारी और कुबूल करने के तरीका-ए-कार को क़तईयत दे दी है । हज कमेटी का एक अहमर मीटिंग आज दफ़्तर हज कमेटी हज हाइज़ नामपली में मुनाक़िद हुआ , जिस की सदारत सदर नशीन हज कमेटी सयद ख़लील उद्दीन अहमद ने की ।

मीटिंग को हज फ़ार्म जारी और कुबूल करने के तरीका-ए-कार से तफ़सीली तौर पर वाक़िफ़ करवाया । हज कमेटी के स्टाफ़ को इस की ट्रेनिंग दी गई है । मीटिंग को बताया गया कि हज दरख़ास्त फ़ार्म 6 फ़बरोरी से 20 मार्च तक तमाम अयाम कार में बावक़ात 10 बजेता 3 बजे दिन जारी और कुबूल किए जाऐंगे ।

सदर नशीन हज कमेटी ने बताया कि इस साल वज़ारत-ए-ख़ारजा हकूमत-ए-हिन्द की हिदायत पर हज कमेटी से आज़मीन के हज करने के मवाक़े में कमी के मक़सद से उम्र भर में सिर्फ़ एक मर्तबा हज का मौक़ा दिया जाएगा । चुनांचे अब पाँच साल में एक मर्तबा हज का मौक़ा देने की बजाए उम्र में सिर्फ़ एक मर्तबा हज का मौक़ा दिया जाये गा ।

चुनांचे अब पाँच साल में एक मर्तबा हज का मौक़ा देने की बजाए उम्र में सिर्फ़ एक मर्तबा मौक़ा दिया जाये गा और इस से क़बल जिन अफ़राद ने हज करलिया हो उन की दरख़ास्त कुबूल नहीं की जाएगी । इस का इतलाक़ इन आज़मीन पर भी होगा जो बहैसीयत मुहर्रम जाना चाहते हूँ । तमाम दरख़ास्त गुज़ारों को दस रुपये के स्टैंप पेपर पर एक हलफ़नामा ,जिसे नोट्री करवा लिया गया हो ,दाख़िल करना चाहीए ।

तमाम आज़मीन को अपनी दरख़ास्तों के साथ पासपोर्ट और सदाक़त नामा रिहायश की दो अदद कापियों , जिन पर ख़ुद के दस्तख़त सबुत हूँ , के साथ दो फ़ोटोज़ दाख़िल करनी होंगी । इस के अलावा महफ़ूज़ ज़मरों के आज़मीन को दरख़ास्त के साथ ही असल पासपोर्ट दाख़िल करदेना होगा उन को ये हलफ़नामा भी दाख़िल करना होगा कि उन्होंने सारी ज़िंदगी में ना तो हज कमेटी के तवस्सुत से और ना ही ख़ानगी ऑप्रेटर के तवस्सुत से हज किया है ।

इस साल आज़मीन के लिए रिहायश के सिर्फ़ दो ज़ुमरे गिल और अज़ीज़ ये रहेंगे । दो साल से ज़ाइद उम्र के बच्चों से मुकम्मल मसारिफ़ वसूल किए जाऐंगे । हज कमेटी के स्टाफ़ को हिदायत दी गई है कि वो तमाम तफ़सीलात से तमाम दरख़ास्त गुज़ारों को वाक़िफ़ करवाया जाये । मज़ीद तफ़सीलात दफ़्तर हज कमेटी वाक़्ये हज हाइज़ नामपली या फ़ोन नंबर 040-23298793 पर तमाम अयाम कार में बावक़ात दफ़्तर हासिल की जा सकती हैं । आज़मीन को दरख़ास्त फ़ार्म के साथ फी कस 300 रुपये की अदायगी पै एन स्लिप और ख़ुद के बैंक अकाउंट का एक मंसूख़ शूदा चैक भी मुंसलिक किया जाये ।

TOPPOPULARRECENT