Friday , December 15 2017

ज़िमनी इंतेख़ाबात में कांग्रेस की कामयाबी यक़ीनी

साबिक़ रियास्ती वज़ीर मुहम्मद अली शब्बीर ने चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी के इंतेख़ाबी जलसा में भारी तादाद में अवाम की शिरकत पर तमाम राय दहिंदों से इज़हार-ए-तशक्कुर करते हुए कांग्रेस की कामयाबी को यक़ीनी ज़ाहिर किया।

साबिक़ रियास्ती वज़ीर मुहम्मद अली शब्बीर ने चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी के इंतेख़ाबी जलसा में भारी तादाद में अवाम की शिरकत पर तमाम राय दहिंदों से इज़हार-ए-तशक्कुर करते हुए कांग्रेस की कामयाबी को यक़ीनी ज़ाहिर किया। शब्बीर ने कहा कि कांग्रेस उम्मीदवार मिस्टर ए राज रेड्डी हक़ीक़ी महबान तेलंगाना है उन्हों ने 1969 में तेलंगाना तहरीक से वाबस्ता होते हुए सरकारी मुलाज़मत से अलैहदगी इख्तेयार की थी जबकि टी आर एस उम्मीदवार मिस्टर गमपा गवर्धन गुज़श्ता इंतेख़ाबात में तेलगुदेशम के टिकट पर कामयाब होते हुए तेलगुदेशम के वजूद को ख़तरा लाहक़ होने पर अपने सयासी मुस्तक़बिल को नज़र में रखते हुए रुकन असेंबली की रुकनीयत से अलैहदगी इख्तेयार की है उन्हें तेलंगाना से कोई दिलचस्पी नहीं है इस के इलावा मिस्टर गम्पा गोवर्धन एक फ़िकरोपरस्त ज़हनीयत के हामिल है और आम इंतेख़ाबात में उन्हों ने इंतेख़ाबी मुहिम के दौरान अलियों के राज को ख़तम करो के नारे बुलंद करते हुए फ़िकरोपरस्त मुहिम चलाई थी जिस की वजह से उन्हें नाकामी का सामना करना पड़ा था उन्हों ने कहा कि टी आर एस अलैहदा रियासत तेलंगाना का दम भर्ती है और कामा रेड्डी तेलंगाना में है कामा रेड्डी की अवाम को आबी सहूलतें फ़राहम करने के लिए माह जनवरी में चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी ने 60 करोड़ रुपय मंज़ूर किया तो टी आर एस के रुकन असेंबली ताराका रामा राव ने इलेक्शन कमीशन से शिकायत की लिहाज़ा अवाम इस बात को समझते हुए टी आर एस को वोट ना दे । आबी सहूलतों की फ़राहमी के लिए हुकूमत फंड्स को जारी किया तो टी आर एस उस की मुख़ालिफ़त कर रही है ये कैसे तेलंगाना के हामी हो सकते हैं|

TOPPOPULARRECENT