जुकरबर्ग ने ट्रंप से की गुज़ारिश, शरणार्थियों और इस्लामी चरमपंथियों को अमेरिका से बाहर न निकाले

जुकरबर्ग ने ट्रंप से की गुज़ारिश, शरणार्थियों और इस्लामी चरमपंथियों को अमेरिका से बाहर न निकाले
Click for full image

वाशिंगटन: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नाम फेसबुक के CEO मार्क जुकरबर्ग ने एक मैसेज लिखा है। फेसबुक पर एक पोस्ट के जरिये निवेदन किया है कि वह शर्णार्थियों के लिए अमेरिका के दरवाजे बंद ना करें और इस्लामिक चरमपंथियों को अमेरिका से बाहर न निकालें।

ज़ुकरबर्ग ने बताया है कि उनके पूर्वज जर्मनी, ऑस्ट्रिया और पॉलैंड से थे और उनकी पत्नी प्रिसेला के दादा-परदादा चीन और वयतनाम के रिफ्यूजी थे। इसलिए वह बाकी जनता की तरह वह भी ट्रम्प के इस ऐलान से बहुत परेशान हुए हैं। ऐसे लोगों को बाहर निकालने स कुछ नहीं होगा बल्कि हमें देश की सुरक्षा के लिए उन लोगों पर ध्यान देना चाहिए जिनसे देश को खतरा है।

आपको बता दें की अमेरिका में जुकरबर्ग के ऑफिस में काम करने वालों में से ज्यादातर इंजीनियर अमेरिका के नहीं बल्कि दूसरे देशों से हैं। ऐसे में उनकी कंपनी के लिए भी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

Top Stories