ज़ेवरात के ताजरेन की हड़ताल में दो दिन तौसीअ

ज़ेवरात के ताजरेन की हड़ताल में दो दिन तौसीअ
सोने और ज़ेवरात के ताजरेन ने मुल्क भर में मज़ीद दो दिन हड़ताल जारी रखने का फैसला किया है। मर्कज़ी बजट में सोने की दरआमद पर कस़्टम़्स ड्यूटी में इज़ाफ़ा और गैर मारूफ़ ज़ेवरात पर एक्साइज़ ड्यूटी की तजवीज़ के ख़िलाफ़ ये हड़ताल की जा रही है। ऑल इंडि

सोने और ज़ेवरात के ताजरेन ने मुल्क भर में मज़ीद दो दिन हड़ताल जारी रखने का फैसला किया है। मर्कज़ी बजट में सोने की दरआमद पर कस़्टम़्स ड्यूटी में इज़ाफ़ा और गैर मारूफ़ ज़ेवरात पर एक्साइज़ ड्यूटी की तजवीज़ के ख़िलाफ़ ये हड़ताल की जा रही है। ऑल इंडिया जेम्स एंड ज्वेलरी ट्रेड फेडरेशन ने बताया कि 17 मार्च से सहि रोज़ा हड़ताल मुनज़्ज़म की गई जिसमें मज़ीद दो दिन की तौसीअ की जा रही है।

सदर नशीन फेडरेशन बचराज बिमलवा ने कहा कि छोटे ताजरेन एक्साइज़ ड्यूटी की तजवीज़ पर बेहद ब्रहम हैं की उनका वो इसके क़ानूनी उमूर नहीं जानते। हम ने उनकी ब्रहमी को पेश नज़र रखते हुए एहतिजाज में दो दिन की तौसीअ का फैसला किया है। ज़ेवरात के ताजरेन का एक वफ़द अनक़रीब वज़ीर फायनेंस परनब मुकर्जी से मुलाक़ात करते हुए तशवीश से वाक़िफ़ कराएगा।

इससे पहले परनब मुकर्जी से जब ताजरेन की सहि रोज़ा हड़ताल के बारे में ज़िक्र किया गया तो उन्होंने कहा था कि दानिस्ता तौर पर उन्होंने ये तजावीज़ बजट में शामिल की हैं।

Top Stories