Wednesday , December 13 2017

फ़ज्र की अज़ान पर पाबंदी आइद करने की मांग लेकर एहतिजाज

बी जे पी को इक्तेदार सँभालने के लिए अभी एक दिन बाक़ी है, नामज़द वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी इंतेख़ाबात के बाद जितने भी बयानात दीए हैं उन से पता चलता है वो एक नए दौर का आग़ाज़ करना चाहते हैं लेकिन संघ परिवार के लोग शायद उन्हें चैन से हुकूमत

बी जे पी को इक्तेदार सँभालने के लिए अभी एक दिन बाक़ी है, नामज़द वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी इंतेख़ाबात के बाद जितने भी बयानात दीए हैं उन से पता चलता है वो एक नए दौर का आग़ाज़ करना चाहते हैं लेकिन संघ परिवार के लोग शायद उन्हें चैन से हुकूमत करने नहीं देंगे।

क्योंकि कुछ तंज़ीमें गढ़े मुर्दों को उखाड़ कर इन में जान भरने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं और अपना दबदबा बनाने की ज़िद पर अड़े हैं कि मुल्क वैसा ही हो जो वो चाहते हैं। साथ ही ख़ौफ़ पैदा करने की बहुत सारी कोशिशें हो रही हैं , ऐसी ही एक और कोशिश 25 मई बरोज़ इतवार को मैंगलोर में हिंदुत्वा के नाम पर एहतिजाज करते हुए की है कि पूरे मुल्क में फ़ज्र की अज़ान पर पाबंदी आइद की जाये।

राष्ट्रीय हिंदू आंदोलन के नाम पर इतवार की सुबह दर्जन भर हिंदुत्वा के कारकुनों ने मैंगलोर डी सी दफ़्तर के सामने एहतिजाज के नाम पर आफ़िसरान पर दबाओ डालने की कोशिश करते हुए मांग की कि वो फ़ज्र की अज़ान पर पाबंदी आइद करें। एहतिजाज में हिंदू जन जागृति समीती का भी बैनर देखा गया।

इस मौक़ा पर सनातन संस्था की कारकुन विजय लक्ष्मी ने कहा कि हिंदुस्तान में सभी मज़ाहिब को आज़ादी दी गई है, लेकिन किसी एक ख़ास मज़हब के लोग इस का ग़लत इस्तिमाल करते हैं तो दीगर मज़ाहिब के मानने वालों को इस से तकलीफ़ होगी।

हिंदू जन जागृति समीती के कारकुन विवेक पाई ने कहा कि सुकून के साथ नींद करना भी एक बुनियादी हक़ है, इस लिए फ़ज्र की अज़ान पर पाबंदी लगाऐं क्योंकि कुछ जगहों पर मुसलमान जानबूझ कर माहौल में सूती आलूदगी पैदा कररहे हैं। उन्हों ने मांग की कि जो लोग फ़ज्र की अज़ान के लिए लड स्पीकर इस्तिमाल करते हैं उन्हें गिरफ़्तार करते हुए सज़ा दी जाये।

राष्ट्रीय हिंदू आंदोलन के कारकुन रमेश नायक ने भी बात की। भारत क्रांति सेना के चीफ़ पर्नाव निंदा स्वामी जिन्हों ने जनवरी में ख़ुदकुशी की कोशिश की थी बात करते हुए हुकूमत से मांग की कि बैंगलौर में ईसाईयों के प्रोग्राम पर भी पाबंदी आइद की जाये, उन्होंने कहा कि ये एहतिजाज फ़ज्र की अज़ान पर पाबंदी लगाए जाने तक जारी रहेगा। श्री राम सेना लीडर कुमार मालेमार, हिंदू युवा सेना लीडर नागेश बजालकीरी भी इस मौक़ा पर मौजूद थे।

—————-बशुक्रिया: साहिल आन लाइन

TOPPOPULARRECENT