Saturday , November 25 2017
Home / AP/Telangana / फ़र्ज़ी दस्तावेज़ात के ज़रीये ज़मीन पर क़बजे की कोशिश

फ़र्ज़ी दस्तावेज़ात के ज़रीये ज़मीन पर क़बजे की कोशिश

हैदराबाद 04 मई : फ़र्ज़ी दस्तावेज़ात के ज़रीये ज़मीनात पर क़बजे के वाक़ियात में इन दिनों इज़ाफ़ा होता जा रहा है। एक एसे वाक़िया में पहाड़ी शरीफ़ पुलिस ने एक शख़्स को लैंड गरब्बिंग में गिरफ़्तार कर लिया।

इंस्पेक्टर पहाड़ी शरीफ़ चलापति ने बताया कि हबीब बेगम नामी ख़ातून की शिकायत पर पुलिस ने तहक़ीक़ात के बाद इसा बन अबूबकर सादी साकिन बारकस को लैंड गरब्बिंग एक्ट के तहत गिरफ़्तार करते हुए कार्रवाई अंजाम दी। उन्होंने बताया कि इसा ने फ़र्ज़ी दस्तावेज़ात तैयार करते हुए इस ग़रीब ख़ातून की ज़मीन पर नाजायज़ क़बजे का मन्सूबा तैयार कर लिया था और क़बजा कर लिया था। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए इस कोशिश को नाकाम बनादिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि इस ख़ातून ने साल 2006 में ज़मीन ख़रीदी थी। ये ज़मीन शाहीननगर के इलाके शाह हिलस में वाक़िये है।

इस ख़ातून ने एक कमरा तामीर किया था और काफ़ी अरसा तक यहां थी बादअज़ां ये ख़ातून शौहर की सेहत के मसले पर याक़ूतपूरा मुंतक़िल हो गई थी और किरायादार को रखा था पानी के मसले से किरायादार भी चला गया। और ज़मीन-ओ-मकान को ख़ाली देखकर लैंड गरब्बेर्स ने अपने नापाक अज़ाइम को अंजाम दिया। इसा पर इल्ज़ाम है कि उसने 7 लोगें के लेनिक डाकूमेंट तैयार करवाए और सब के सब नोट्री पर मौजूद थे। पुलिस ने बग़ैर किसी दबाओ के जामा तहक़ीक़ात करते हुए इसा बन अबूबकर सादी को गिरफ़्तार कर लिया। पुलिस के लिए अब भी एक सवाल चैलेंज बना हुआ है कि आया ये फ़र्ज़ी दस्तावेज़ात कहाँ तैयार किए गए और किस ने उसे तैयार किया। फ़र्ज़ी दस्तावेज़ात को तैयार करने वाला ताहाल पुलिस की गिरिफ़त से बाहर है।
पुलिस को चाहीए कि वो फ़र्ज़ी दस्तावेज़ात तैयार करने वाले को मंज़र-ए-आम पर लाए और इस के ख़िलाफ़ कार्रवाई करे।

TOPPOPULARRECENT