Wednesday , May 23 2018

फ़सादात‌ के अठारह रोज़ बाद पुलिस की कोताहियों की निशानदेही

मुज़फ़्फ़र नगर के हालिया भयानक फ़िर्कावाराना फ़सादात‌ के अठारह रोज़ के बाद रियासत के डायरेक्टर जेनरल देवराज नागर आज मेरठ में अख्बारी नुमाइंदों के सामने पेश हुए।

मुज़फ़्फ़र नगर के हालिया भयानक फ़िर्कावाराना फ़सादात‌ के अठारह रोज़ के बाद रियासत के डायरेक्टर जेनरल देवराज नागर आज मेरठ में अख्बारी नुमाइंदों के सामने पेश हुए।

उन्होंने कहा कि मुज़फ़्फ़र नगर फ़साद रोकने में नाकामी का असल सबब ये था कि पुलिस इतनी कम थी कि वो चाह कर भी हुजूम को कंट्रोल नहीं कर‌ सकती थी जिस की वजह से सूरत-ए-हाल इतनी ख़राब हुई। उन्होंने कहा कि मुज़फ़्फ़र नगर समेत जिन इलाक़ों में फ़िर्कावाराना फ़सादाद हुए उनकी जांच पुलिस की ख़ुसूसी सेल ने शुरू करदी है।

ये फ़सादात‌ के तमाम पहलूऔ का जायज़ा लेगी। मुज़फ़्फ़र नगर के हालिया फ़सादात‌ के ज़िमन में रियासत के वज़ीर आला अखिलेश यादव ने नई दिल्ली में मुताल्लिक़ा ज़िला के पुलिस हुक्काम , अव्वामी नुमाइंदों से मुलाक़ात कर के वहां की सूरत-ए-हाल का जायज़ा लिया। बताया जाता है कि मुस्लिम एस पी अब्दुलहमीद ने वज़ीर आला को साफ़ बताया कि भारतीय जनता पार्टी ने उनको सहीह ढंग से काम नहीं करने दिया, हर मुआमले में मुदाख़िलत कर के सूरत-ए-हाल ख़राब की।

बताया जाता है कि रियासत के डायरेक्टर जेनरल पुलिस देव राज नागर के अठारह रोज़ के बाद वारिद हुए और उनकी सफ़ाई से वज़ीर आला क़तई मुतमइन नहीं हैं। ख़्याल किया जा रहा है कि देव राज नागर पर किसी भी वक़्त तादीबी कार्रवाई की जा सकती है।

TOPPOPULARRECENT