फ़ारूक़ी केस : अदालत में 7 जनवरी को समात

फ़ारूक़ी केस : अदालत में 7 जनवरी को समात

नई दिल्ली: फ़िल्म पीपली लाईव के शरीक हिदायतकार महमूद फ़ारूक़ी जिन पर एक अमरीकी मुहक़्क़िक़ की इस्मत रेज़ि का इल्ज़ाम है, उनसे मुताल्लिक़ केस का ट्रायल अपने क़तई मरहले में दाख़िल हो जाएगा क्योंकि दिल्ली की एक अदालत ने क़तई दलायल की 7 जनवरी से समात मुक़र्रर कर दी है।

इस केस की सुनवाई 9 सितम्बर को ऐडीशनल सेशंस जज संजीव जैन के रूबरू शुरू हुई थी, जिन्होंने वकील सफ़ाई के पेश करदा सबूत की कलमबंदी ख़त्म होने के बाद इस मामले को क़तई दलायल के लिए डाल दिया था। मुबय्यना मज़लोमा जो अमरीका में रहती है, उसने 14 सितम्बर को अदालत में हाज़िर हो कर इस केस में अपना बयान कलमबंद कराया था।

30 साला अमरीकी ख़ातून ने कैमरे के ज़रिये अहाता की गई कार्रवाई के दौरान इल्ज़ाम आइद किया था कि फ़ारूक़ी ने 28 मार्च को यहां अपनी सुखदेव विहार क़ियामगाह उस का रेप किया था और बाद में दोनों के दरमियान किए गए ईमेल तबादलों में इस से माफ़ी चाही।

Top Stories