Friday , December 15 2017

फ़ाशेज़म के ख़िलाफ़ मुल्क गीर‌ तहरीक वक़्त का तक़ाज़ा

जनाब सय्यद अज़ीज़ पाशाह-ओ-दीगर कम्यूनिस्ट क़ाइदीन का बयान

जनाब सय्यद अज़ीज़ पाशाह-ओ-दीगर कम्यूनिस्ट क़ाइदीन का बयान

सी पी आई की मर्कज़ी क़ियादत के साथ तेलंगाना और ग्रेटर हैदराबाद ने मुल्क में बढ़ती हुई लाक़ानूनीयत , फ़िर्कापरस्ती और कीमतों में इज़ाफे से अवामी तशवीश को महसूस करते हुए मुल्क गैर सतह पर सैकूलरिज़म की बक़ा और एतिदाल पसंदी की जानिब हुकूमतों को लाने तहरीक क़ौमी सतह से हैदराबाद सतह तक शुरू करने का फैसला किया ।

इस ज़िमन में सी पी आई के साबिक़ रुकन राज्य सभा-ओ-रुकन क़ौमी आमिला जनाब सय्यद अज़ीज़ पाशाह ने कहा कि दानिस्ता तौर पर मुल्क को फ़ाशेज़म की तरफ़ ले जाया जा रहा है जिस के ख़िलाफ़ मुल्क गैर सतह पर अवामी तहरीक वक़्त की ज़रूरत है। श्री सी वेंकट रेड्डी ने भी तेलंगाना सतह पर क़ौमी तशवीश को उजागर करने मुख़्तलिफ़ प्रोग्रामों को लाज़िम क़रार दिया।

डाक्टर डी सुधाकर सैक्रेटरी ग्रेटर हैदराबाद ने कहा कि मोदी सरकार के वजूद में आए 120 दिन होरहे हैं लेकिन तेज़ी से फ़िर्क़ापरस्तों के अज़ाइम बुलंद होते जा रहे हैं। कीमतों में इज़ाफ़ा गरीबों के लिये जीना दूभर होगया है। इन हालात में मुल्क ख़ारिजी और दाख़िली सतह पर एक अज़ीम बोहरान से गुज़र रहा है।

इसे में बलालिहाज़ मज़हब-ओ-मिल्लत शहरियों का ये फ़रीज़ा बन जाता है कि वो मुख़्तलिफ़ रियासतों के इंतेख़ाबात में फ़िर्क़ापरस्तों को शिकस्त दे कर उनके नापाक अज़ाइम को कुचल कर रखदें , तंज़ीम इंसाफ़ के सदर मीर अहमद अली जनरल सैक्रेटरी मुनीर पटेल सैक्रेटरी सय्यद हमीद अलाउद्दीन अहमद महमूद के अलावा जनाब सय्यद अली अलाउद्दीन अहमद असद और जनाब मुहम्मद याक़ूब अरशद ने कहा कि मुख़्तलिफ़ रियासतों में फ़िर्क़ापरस्त जमातों अफ़राद की जानिब से सरकारी महिकमाजात के अफ़िसरों को अपने ताबे करने की नापाक कोशिशों का सिलसिला जारी है। ख़वातीन पर मज़ालिम पर मर्कज़ी हुकूमत ख़ामोश तमाशाई का रोल अदा कररही है।

TOPPOPULARRECENT