Sunday , December 17 2017

फ़िर्कापरस्तों की शर अंगेज़ी के ख़िलाफ़ वारंगल में मुसलमानों का एहतिजाज

शहर वारंगल में पहली मर्तबा हिंदू और मुस्लिम तंज़ीमों के बीच चंद इंतिशार पसंद अफ़राद की तरफ से फ़िर्कावाराना फ़साद की कोशिश करते हुए आर एस एस के और बी जे पी के कारकुनों ने 400 से ज़ाइद बैल, गाय और कई बकरों को छीन लिया जिस से मुसलमानों में ग़

शहर वारंगल में पहली मर्तबा हिंदू और मुस्लिम तंज़ीमों के बीच चंद इंतिशार पसंद अफ़राद की तरफ से फ़िर्कावाराना फ़साद की कोशिश करते हुए आर एस एस के और बी जे पी के कारकुनों ने 400 से ज़ाइद बैल, गाय और कई बकरों को छीन लिया जिस से मुसलमानों में ग़ुस्से की लहर दौड़ गई।

वाज़िह रहे कि कल शाम मेल्स कॉलोनी पुलिस स्टेशन के हदूद में वाक़्ये रंगा शाई पीटी और शमाउन पेट इलाके से ताल्लुक़ रखने वाले मुसलमानों ने ईद-उल-अज़हा के मौके पर क़ुर्बानी के लिए जानवरों की ख़रीदी की और उन्हें महफ़ूज़ रखा था जिसे रात देर गए बी जे पी कारकुन और आर एस एस कारकुनों ने मुक़ामी पुलिस इन्सपेक्टर जी किशन की मदद से तमाम जानवरों को अपने क़बजे में करलिया और साथ ही साथ पाँच कसाइयों को पुलिस ने गिरफ़्तार करलिया।

जैसे ही इस बात की इत्तेला मुक़ामी मुसलमानों में जंगल की आग की तरह फैल जाने पर हालात कशीदा होगए। हज़ारों की तादाद में मुसलमानों ने ज़बरदस्त एहतिजाज मुनज़्ज़म किया। मुस्लिम ग्रीन स्टार यूथ और सदर वक़्फ़ कमेटी और कांग्रेस पार्टी के माइनॉरिटी सदर नशीन और कई मुसलमानों ने ज़िला सुपरिन्टेन्डेन्ट पुलिस अर्बन वेंकटेशर राव‌ के कैंप ऑफ़िस पहुंच कर एक याददाश्त पेश करते हुए ग्रीन स्टार सदर शाह नवाज़ बैग, सदर वक़्फ़ कमेटी मुहम्मद अमजद ख़ां, कांग्रेस पार्टी के माइनॉरिटी चेयरमैन मुहम्मद उबीद के अलावा दुसरे मुस्लिम नौजवानों ने ज़िला एस पी से ख़ाहिश की के मेल्स कॉलोनी इन्सपेक्टर किशन के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाये और फ़ौरी जो जानवरों को पुलिस ने अपनी तहवील में लिया है उन्हें छोड़ा जाये। ज़िला एस पी ने फ़ौरी इन जानवरों को छोड़ने और इन्सपेक्टर के ख़िलाफ़ कार्रवाई का तीक़न दिया।

TOPPOPULARRECENT