‘वैक्सीन नहीं तो पैसा नहीं’

‘वैक्सीन नहीं तो पैसा नहीं’
ऑस्ट्रेलिया की हुकूमत का कहना है कि वो ऐसे वालिदैन के लिए फ़लाहो बहबूद के तहत दी जाने वाली रक़म को बंद करने का मंसूबा रखती है जो अपने बच्चों को वैक्सीन नहीं लगवाना चाहते।

ऑस्ट्रेलिया की हुकूमत का कहना है कि वो ऐसे वालिदैन के लिए फ़लाहो बहबूद के तहत दी जाने वाली रक़म को बंद करने का मंसूबा रखती है जो अपने बच्चों को वैक्सीन नहीं लगवाना चाहते।

ख़बररसां इदारे ए एफ़ पी के मुताबिक़ ऑस्ट्रेलिया में ‘वैक्सीन नहीं तो पैसा नहीं’ पॉलिसी की वजह से वालिदैन को हर साल फ़ी बच्चा 11 हज़ार डॉलर से ज़ाइद का नुक़्सान उठाना पड़ सकता है।

ख़्याल रहे कि हालिया बरसों में अमरीका के बाअज़ हिस्सों समेत बाअज़ मग़रिबी ममालिक में वैक्सिन मुख़ालिफ़ तहरीक मज़बूत हुई है। वहां बच्चों की बाअज़ काबिले इंसिदाद बीमारीयां जैसे ख़सरा वग़ैरा ने फिर से सर उभारना शुरू कर दिया है।

ऑस्ट्रेलिया में पाँच साल से कम उमर के तक़रीबन 10 फ़ीसद बच्चों को ऐसी बीमारीयों से हिफ़ाज़त के टीके नहीं लगे हैं।

Top Stories