Tuesday , December 12 2017

रघुवंश बाबू के सवाल का जवाब दें नीतीश : सुशील मोदी

पटना : सीनियर भाजपा लीडर व साबिक नायब वज़ीरे आला सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि चार दिन पहले जुर्म की बढ़ती वारदात के मद्देनजर वज़ीरे आला नीतीश कुमार से जवाब मांगने वाले सरकार के इत्तिहादी राजद के सीनियर लीडर डा. रघुवंश प्रसाद सिंह ने एक बार फिर सरकार को सवालों के घेरे में खड़ा किया है.

वज़ीरे आला को उसका जवाब देना चाहिए. मोदी ने एक अंग्रेजी अखबार में डा. सिंह के इंटरव्यू का हवाला देते हुए कहा है कि सरकार ने रियासत को सूखा से मुतासिर इलाके का एलान नहीं किया जिससे मर्क़ज़ी मदद से महरूम होना पड़ा है.

यहां के अफसरों का काम सही नहीं है. नीतीश कुमार को डा. सिंह के सवालों का जवाब देना चाहिए. भाजपा लीडर ने कहा है कि डा. सिंह का इल्ज़ाम है कि रियासत के किसान सूखे से तबाह हैं मगर सरकार ने सूखा से मुतासिर इलाका का एलान करके मर्क़ज़ को रिपोर्ट नहीं दी इसलिए बिहार मदद रक़म से महरूम हो गया. उत्तरप्रदेश ने हाल ही अपने 50 जिलों को सूखा से मुतासिर एलान किया है जबकि कर्नाटक ने वक़्त पर रिपोर्ट सौंप कर केन्द्र सरकार से 1500 करोड़ की मदद लेने में कामयाब रहा है. बिहार सरकार के अफसरों को कोसते हुए उन्होंने कहा है उन्होंने कोई जायजा ही नहीं किया. अफसरों का कहना है कि बिहार में महज़ 37 फिसद कम साल हुई है, इसलिए सूखा से मुतासिर इलाका का एलान  नहीं किया गया जबकि हथिया नक्षत्र में पूरे सूबे में एक बूंद बारिश नहीं हुई और इसकी वजह पूरे सूबे में सूखे से भी भयावह हालत है. 70 फिसद से ज्यादा सरकारी नलकूप ठप हैं.

डा. सिंह ने सरकार के कामकाज पर सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि सरकार की कामयाबियों की जवाब कॉपी का हर पन्ना खाली है, ऐसे में वह सरकार को पास मार्क्स नहीं दे सकते हैं. इसके पहले डा. सिंह ने वज़ीरे आला को जुर्म के कंट्रोल पर राजद सरबराह लालू प्रसाद की सलाह पर अमल करने और बढ़ते जुर्म पर जवाब देने की मुतालिबात की थी.

डा. सिंह का साफ कहना था कि अगर नीतीश कुमार सरकार की ड्राइविंग सीट पर बैठे हैं तो उन्हें जवाब देना होगा. मोदी ने कहा कि अगर नीतीश कुमार में हिम्मत है तो राजद लीडर डा. रघुवंश प्रसाद सिंह की तरफ से उठाये गए तमाम सवालों का जवाब दें.

 

TOPPOPULARRECENT