Saturday , December 16 2017

1 लाख भारतीय मंगल ग्रह पर जाने के लिए टिकट बुक करवाया, मई 2018 में लॉन्च होगा मिशन

मुंबई : मंगल ग्रह पर आम लोग भी यात्रा पर जाएंगे ये तो तय हो चुका है और यह मिशन मई 2018 में लॉन्च होना है। तकरीबन 1 लाख 38 हजार 899 भारतीय मंगल ग्रह पर जाने के लिए टिकट बुक करवा चुके हैं। इन लोगों ने अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के InSight मिशन के तहत लाल ग्रह पर जाने के लिए टिकट बुक कराई है। नासा ने कहा है कि जिन लोगों ने अपना नाम दिया है उन्हें ऑनलाइन बोर्डिंग पास दिया जाएगा। जो नाम दिए गए हैं, उन्हें एक सिलिकॉन चिप पर इलेक्ट्रॉन बीम के सहारे उकेरा जाएगा। चिप पर लिखे गए अक्षर बाल के हजारवें हिस्से से भी पतले होंगे। इसके बाद यह चिप मंगल पर भेजी जाएगी।

इस मिशन के लिए नासा को दुनियाभर से कुल 24 लाख 29 हजार 807 आवेदन मिले। नासा के मुताबिक, बुधवार को दुनियाभर से नाम भेजनेवालों की सूची में भारत तीसरे नंबर पर रहा। सूची में पहला स्थान अमेरिका का है। अमेरिका से 6 लाख 76 हजार 773 लोगों ने अपने नाम मंगल मिशन के लिए भेजे हैं। इसके बाद चीन के 2 लाख 62 हजार 752 लोगों ने मिशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है। भारत तीसरे नंबर पर है।

नासा ने माना है कि चीन के बाद भारत का तीसरे नंबर पर रहना काफी महत्वपूर्ण है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, भारत के तीसरे नंबर पर रहने की दो बड़ी वजहें हैं। पहला भारत के मंगलयान मिशन के बाद से यहां के नागरिकों में उत्साह और रुचि पैदा होना है, तो दूसरी वजह भारत और अमेरिका के बीच अंतरिक्ष क्षेत्र में बढ़ता सहयोग है।

नासा के जेट प्रपलशन लैबरेटरी (JPL) ने बताया कि रजिस्ट्रेशन कराने की आखिरी तारीख बीते हफ्ते बीत चुकी है और अब कोई नया नाम स्वीकार नहीं किया जाएगा। नासा का यह मिशन 26 नवंबर 2018 को मंगल ग्रह पर लैंड होगा। यह 720 दिन का मिशन है, जो मंगल पर आनेवाले भूकंपों का अध्ययन कर के वहां के आंतरिक हालात का पता लगाएगा।

TOPPOPULARRECENT