Wednesday , December 13 2017

1 सितम्बर से नक़द बदली स्कीम पर अमल आवरी

हुकूमत की तरफ से मुख़्तलिफ़ स्कीमों के ज़रिये इस्तेफ़ादा करने वाले अफ़राद को हर मुम्किन सहूलत फ़राहम करते हुए उन्हें फ़ायदा पहुंचाने की ज़िम्मेदारी ज़िला के हर ओहदेदार पर है।

हुकूमत की तरफ से मुख़्तलिफ़ स्कीमों के ज़रिये इस्तेफ़ादा करने वाले अफ़राद को हर मुम्किन सहूलत फ़राहम करते हुए उन्हें फ़ायदा पहुंचाने की ज़िम्मेदारी ज़िला के हर ओहदेदार पर है।

इन ख़्यालात का इज़हार ज़िला कलेक्टर डक्टर अहमद बाबू ने आदिलाबाद के कलेक्ट्रेट कांफ्रेंस हाल में मुनाक़िदा मीटिंग के दौरान किया।

उन्होंने मुताल्लिक़ा ओहदेदारों को इंतिबाह दिया कि वो अपने फ़राइज़ की अदायगी में किसी भी तरह की कोताही ना करें। ज़िला कलेक्टर ने पकवान गैस सारिफ़ीन को आइन्दा माह की पहली तारीख़ से सब्सीडी की रक़म को बैंक अकाउंट में जमा करने की हिदायत दी।

जिस के लिए आधार कार्ड को ज़रूरी बताते हुए जारीया माह के इख़तेताम तक एसे अफ़राद जिन्हें आधार कार्ड हासिल नहीं हुआ उन्हें फ़राहम करने का मश्वरह दिया।

बसूरत‍ ए‍ दुसरे इस्तेफ़ादा करने वाले अफ़राद को नुक़्सान का अंदेशा ज़ाहिर किया। तलबा और तालिबात को स्कालरशिप रक़म वसूली की ग़रज़, ज़ीरो बैलेंस अकाउंट बनाने की हिदायत बैंक ओहदेदारान को दी ताके तलबा को हुकूमत की तरफ से फ़राहम होने वाली रक़म हासिल करने में सहूलत हो।

ओलयाए तलबा की तरफ से मिलने वाली शिकायतों के पेशे नज़र ज़िला कलेक्ट्रेट ने बैंक ओहदेदारान के टाल मटोल रवैये को तर्क करते हुए बिनाकिसी पेशगी रक़म के अकाउंट खोलने की हिदायत दी।

TOPPOPULARRECENT