Friday , December 15 2017

10 साल तक मैं ब्रांड एम्बेसडर रहा यही अहम एज़ाज़ है: आमिर ख़ान‌

मुंबई: सुपर स्टार आमिर ख़ान‌ ने जिन्हें 10 साल बाद इनक्रेडिबल इंडिया के लिए ब्रांड एंबेसेडर कि हैसियत से हटा देने का फ़ैसला किया गया है आज कहा कि वो उनकी ख़िदमात को ख़त्म कर देने हुकूमत के फ़ैसले का एहतेराम करते हैं जबकि उन्होंने ये वाज़िह कर दिया कि उन्होंने इस काज़ के लिए हरगिज़ कोई उजरत नहीं ली थी।

ये हुकूमत का इख़्तियार तमीज़ी है कि वो किसी भी मुहिम के लिए ब्रांड एंबेसेडर की हैसियत से किसी को भी मुक़र्रर करने का इख़्तियार रखती है। मुझे यक़ीन है कि इस मुल्क के लिए जो कुछ बेहतर हो सकता वो लोग मुनासिब इक़्दामात करेंगे। आमिर ख़ान‌ ने एक बयान में कहा कि वो हुकूमत के फ़ैसले का एहतेराम करते हैं।

वज़ारत सयाहत ने एक दिन क़बल ही कहा था कि उनका कॉन्ट्रैक्ट ख़त्म हो चुका है, लिहाज़ा आमिर ख़ान‌ अब इनक्रेडिबल इंडिया के ब्रांड एंबेसेडर नहीं रहे। आमिर ख़ान‌ ने कहा कि मेरे लिए बड़े फ़ख़र और एज़ाज़ की बात है कि मैं गुज़िश्ता 10 साल से इनक्रेडिबल इंडिया मुहिम के लिए ब्रांड एंबेसेडर रहा मुझे अपने मुल्क की ख़िदमत करते हुए ख़ुशी हुई और में इस मुल्क की ख़िदमत के लिए हमेशा के लिए तैयार हूँ।

मैं ये वाज़िह करना चाहता हूँ कि मैं अब तक तमाम अवामी ख़िदमात के जो फिल्में की हैं उनके लिए कोई मुआवज़ा नहीं लिया बल्कि मुफ़्त ख़िदमत अंजाम दी है। मेरे ब्रांड एंबेसेडर रहने य ना रहने से कुछ फ़र्क़ नहीं पड़ेगा। क्योंकि ये हिन्दुस्तान हमेशा इनक्रेडिबल रहेगा। इस
सिलसिले में उनके परसितारों का कहना है कि अवाम रवादारी के मसले पर इन रिमार्कस की वजह से हुकूमत ने उन्हें हटा दिया है। वज़ारत सयाहत ने कल कहा था कि अदाकार आमिर ख़ां के साथ हुकूमत का मुआहिदा ख़त्म हो चुका है। उनकी ख़िदमात ख़त्म करने के फ़ैसले के अदम रवादारी के बयान से कोई ताल्लुक़ नहीं है|

TOPPOPULARRECENT