डॉ.कफील के समर्थन में उतरे आरडीए के डॉक्टर, बोले- देश की सुरक्षा के लिए खतरा नहीं हो सकते कफ़ील

डॉ.कफील  के समर्थन में उतरे आरडीए के डॉक्टर, बोले- देश की सुरक्षा के लिए खतरा नहीं हो सकते कफ़ील

एएमयू में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में मथुरा जेल में बंद डॉ. कफील खां पर रासुका की कार्रवाई करने का यूनिवर्सिटी में विरोध शुरू हो गया है। जेएन मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (आरडीए) की ओर से मार्च निकाल कर डॉ. कफील से रासुका हटाने की मांग की गई। साथ ही कहा कि डॉ. कफील वो शख्स है जिसने देश भर में 50 से ज्यादा मुफ्त में हेल्थ कैंप लगाए। वो देश की सुरक्षा के लिए कैसे खतरा  हो सकता है। जो लोगों की जान को अपनी जान पर खेलकर बचाने की बात करता हो वह खतरा नहीं हो सकता। आरडीए मांग करता है कि डॉ. कफील से रासुका हटाकर रिहा किया जाए। डॉ. कफील 12 दिसंबर को एएमयू आए थे। जहां उन्होंने बाबे सैयद पर भड़काऊ बयान दिया था।

आरडीए ने निकाला विरोध मार्च

दोपहर में निकाले गए मार्च के बाद आरडीए के अध्यक्ष डॉ. हमजा मलिक ने कहा कि पर जिस तरह से प्रदेश सरकार ने एनएसए लगाया उसके विरोध में हमने मार्च निकाला। डॉ. कफील वो शख्स है जिसने देश भर में 50 से ज्यादा मुफ्त में हेल्थ कैंप लगाए। वो देश की सुरक्षा के लिए कैसे खतरा  हो सकता है। जो लोगों की जान को अपनी जान पर खेलकर बचाने की बात करता हो वह खतरा नहीं हो सकता। आरडीए मांग करता है कि डॉ. कफील से रासुका हटाकर रिहा किया जाए। उधर, एएमयू के बाबे सैयद पर धरना जारी रहा। छात्र नेताओं ने सीएए के विरोध में अपनी बात रखीं

Top Stories