Monday , December 18 2017

12 घंटे के आप्रेशन के बाद जुड़वां बहनों को अलग कर दिया गया

दो जुड़वां बहनों स्तुती और आराधना को हिंदूस्तान और बैरून हिंद (विदेश) से बुलाए गए 23 डाक्टरों समेत 34 तिब्बी माहिरीन (चिकित्सा विशेषज्ञों/ medical experts) की एक टीम ने दिन भर एक पेचीदा और मुश्किल आप्रेशन के बाद निहायत कामयाबी के साथ एक दूसरे स

दो जुड़वां बहनों स्तुती और आराधना को हिंदूस्तान और बैरून हिंद (विदेश) से बुलाए गए 23 डाक्टरों समेत 34 तिब्बी माहिरीन (चिकित्सा विशेषज्ञों/ medical experts) की एक टीम ने दिन भर एक पेचीदा और मुश्किल आप्रेशन के बाद निहायत कामयाबी के साथ एक दूसरे से अलग कर दिया ।

ये पेचीदा सर्जीकल अमल और कार्रवाई पधार (Padhar) में मिशनरी अस्पताल में अंजाम दी गईं । एक साल की ये दोनों बहनें जो दिल और जग (heart and liver) से जुड़ी हुई थीं कल सुबह तक़रीबन 8 बजे व्हील चेयर पर आप्रेशन थियेटर लाई गई थीं। असल ऑप्रेशन 9 बजे शुरू हुआ और तक़रीबन रात 9 बजे ख़त्म हुआ था ।

स्तुती को सब से पहले व्हील चेयर पर आप्रेशन थियेटर पर बाहर लाया गया । ये दोनों वेंटीलेटर पर हैं और तक़रीबन 48 घंटों से उन्हें मेडीकल निगरानी में रखा गया । चार मरहलों (चरण) वाले इस ऑप्रेशन में सब से पहले दोनों को सब से पहले बेहोशी की दवा दी गई और तक़रीबन दो घंटे के बाद सर्जनों की एक टीम ने उन के दिल को अलग किया था ।

तीसरे मरहले ( चरण) में सर्जनों ने एक ख़तरनाक ऑप्रेशन के ज़रीया उन के जिगर ( Heart) अलग किए और आख़िरी मरहले ( चरण) में उन के जिस्म के दूसरे हिस्से एक दूसरे से अलग किए गए थे ।

ज़राए का कहना है कि स्तुती आख़िर कार आराधना से अलग हो गई और उसे इंतिहाई निगरानी वाले यूनिट में रखा गया है जबकि आराधना को आप्रेशन थियेटर के अंदर रखा गया है । अस्पताल के सुप्रीटेंडेंट ने इस ऑप्रेशन पर इत्मीनान ज़ाहिर किया और कहा कि वो इसके नतीजे से बहुत ख़ुश हैं ।

मध्य प्रदेश के वज़ीर-ए-आला ( मुख्य मंत्री) शिवराज सिंह चौहान ने वज़ीर-ए-आला के इख़तियारी (discretionary fund) फ़ंड से दोनों के आप्रेशन अख़राजात ( खर्च) के लिए 20 लाख रुपये अदा किए ।

TOPPOPULARRECENT