12 लाख तालिबे इल्म को साइकिल देने की तैयारी

12 लाख तालिबे इल्म को साइकिल देने की तैयारी
प्रदेश के 12 लाख तालिबे इल्म को हुकूमत की तरफ से साइकिल देने की तैयारी है। तालीम महकमा ने इसके लिए कैबिनेट तजवीज तैयार किया है। इसके तहत आठवीं से दसवीं क्लास तक में पढ़ने वाले हर तालिबे इल्म को साइकिल देने की मंसूबा है। रियासत में त

प्रदेश के 12 लाख तालिबे इल्म को हुकूमत की तरफ से साइकिल देने की तैयारी है। तालीम महकमा ने इसके लिए कैबिनेट तजवीज तैयार किया है। इसके तहत आठवीं से दसवीं क्लास तक में पढ़ने वाले हर तालिबे इल्म को साइकिल देने की मंसूबा है। रियासत में तालिबे इल्म को साइकिल देने की मंसूबा पहले से चल रही है। रियासत में तकरीबन एक हजार हाईस्कूल हैं। हर साल तकरीबन चार लाख बच्चे मैट्रिक बोर्ड की इम्तिहान में बैठते हैं।

आठवीं, नौवीं और दसवीं को अगर मिला दिया जाए तो यह तादाद 12 लाख से ज़्यादा बैठती है। तजवीज में साइकिल की तकरीबन शरह 3,300 रुपए बताई गई है। अगर कैबिनेट इस मंसूबा को मंजूरी देती है तो रियासत के खजाने पर तकरीबन 200 करोड़ से ज़्यादा का इजाफ़ी खर्च आयेगा। मंसूबा के मुताबिक एक तालिबे इल्म को उसकी तालीमी मुद्दत में एक ही बार साइकिल देनी है। साथ ही एक बार फायदा उठा चुके तालिबे इल्म को भी अलग रखना है।

ऐसे में तालिब इल्म को साइकिल देने का खर्च इसके तहत वहन नहीं करना होगा। साथ ही अगले साल से सिर्फ आठवीं के तालिबे इल्म को साइकिल देनी होगी।

Top Stories