Friday , January 19 2018

12 साल बाद एक स्टेज पर मोदी-पासवान

12 साल के बाद नरेंद्र मोदी और राम विलास पासवान मुजफ्फरपुर की रैली में एक स्टेज पर नज़र आए। साल 1999 में मर्कज़ में अटल बिहारी वाजपेयी की हुकूमत बनने के बाद नीतीश कुमार और रामविलास पासवान दोनों को मर्कज़ी वजीर बनने का मौका मिला था। ये ज़मान

12 साल के बाद नरेंद्र मोदी और राम विलास पासवान मुजफ्फरपुर की रैली में एक स्टेज पर नज़र आए। साल 1999 में मर्कज़ में अटल बिहारी वाजपेयी की हुकूमत बनने के बाद नीतीश कुमार और रामविलास पासवान दोनों को मर्कज़ी वजीर बनने का मौका मिला था। ये ज़माना आरजेडी के फ़ेल गढ़ का था। एलजेपी के साबिक़ एमपी रामचन्द्र पासवान का कहना है के 12 बरसों के बाद रमविलास पासवान और नरेंद्र मोदी एक स्टेज पर आए हैं।

उन्होने कहा के एनडीए से एलजेपी का रास्ता काफी अच्छा रहा है। साबिक़ वजीरे आजम अटल बिहार वाजपेयी खुद रामविलास पासवान को पसंद करते हैं। 12 साल कबल मोदी और पासवान देहली के एक जलसा में एक स्टेज पर नज़र आए थे। पिछले साल 27 अक्तूबर को गांधी मैदान की हुंकार रैली हो या पीर को मुजफ्फरपुर की रैली नरेंद्र मोदी एक हिकमत अमली के तहत वजीरे आल नीतीश कुमार को मुसलसल निशाना बना रहे हैं। मक़सद है रियासत में होने जा रही कद्दावरों की लड़ाई के दरमियान में मुक़ाबला सिर्फ बीजेपी और जेडीयू के दरमियान करना। बीजेपी के इस सोच के पीछे इंतिख़ाब के दौरान दीगर पार्टियों के दरमियान पेश पश्त धकेलना है।

TOPPOPULARRECENT