Friday , November 24 2017
Home / Uttar Pradesh / UP: 15 तक ‘डिजिटल’ न होने पर रद्द होगी मदरसों की मान्यता

UP: 15 तक ‘डिजिटल’ न होने पर रद्द होगी मदरसों की मान्यता

लखनऊ । उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश के सभी मदरसों की प्रक्रिया को ऑनलाइन करने के आदेश दिए थे, जिसके तहत मदरसों की जानकारी को ऑनलाइन अपलोड करने की अंतिम तिथि शासन द्वारा जारी कर दी गयी है। गौरतलब है कि, सरकार के इस आदेश में प्रदेश के भीतर मौजूद सभी मदरसे आते हैं, साथ ही जानकारी अपलोड ने करने पर मदरसों की मान्यता को रद्द कर दिया जायेगा।

योगी सरकार ने प्रदेश के सभी मदरसों को ऑनलाइन करने हेतु एक योजना बनायीं थी। जिसके तहत प्रदेश के सभी मदरसों की सारी प्रक्रियाओं को ऑनलाइन करने का आदेश दिया था। इसके साथ ही मदरसों की जानकारी को ऑनलाइन अपलोड करने की आखिरी तारीख भी शासन ने जारी कर दी है।

साथ ही जानकारी अपलोड न करने की दशा में मदरसों की मान्यता को रद्द कर दिया जायेगा। यह जानकारी जिला समाज कल्याण विभाग की ओर से जारी की गयी है। साथ ही यह भी बताया गया कि, रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया में सभी अनुदानित मदरसे शामिल होंगे।
साथ ही गैर-अनुदानित, अरबी-फारसी मान्यता प्राप्त मदरसे भी शामिल होंगे।

मदरसों की प्रक्रिया को ऑनलाइन करने की घोषणा से पहले मदरसों के लिए स्वतंत्रता दिवस पर भी आदेश जारी हुए थे। जिसमें कहा गया था कि, सभी मदरसों में राष्ट्रगान कराया जाए और पूरे कार्यक्रम की वीडियोग्राफी बनाये जाये।

TOPPOPULARRECENT