15 साल से बगैर शहाबुद्दीन के सियासत संभाल रही हैं हिना शहाब!

15 साल से बगैर शहाबुद्दीन के सियासत संभाल रही हैं हिना शहाब!

सीवान में राष्ट्रीय जनता दल की उम्मीदवार हीना शहाब हों या उनकी प्रतिद्वंद्वी जद (यू) की कविता सिंह या फिर मुंगेर में कांग्रेस प्रत्याशी नीलम सिंह, पार्टिंया अलग अलग लेकिन बाहुबली पतियों की आपराधिक पृष्ठभूमि के कारण ‘परिस्थितिजन्य उम्मीदवारी’ तीनों को सौगात में मिली और अब वे चुनावी अखाड़े में पूरे दम खम से ताल ठोक रही हैं।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, पिछले दो लोकसभा चुनाव हार चुकी हीना चार बार सीवान के सांसद रहे बाहुबली शहाबुद्दीन की पत्नी हैं जो अपहरण और हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं। जद (यू) उम्मीदवार और दरौंधा से दो बार की विधायक कविता बाहुबली अजय सिंह की पत्नी है जिन्हें कई आपराधिक मामलों के कारण टिकट नहीं दिया गया।

मुंगेर में मोकामा विधायक अनंत सिंह की पत्नी नीलम पहली बार चुनाव लड़ रही हैं जिनका सामना प्रदेश के जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह से है।

कभी नीतीश कुमार के करीबी रहे अनंत दो बार जद (यू) के टिकट पर चुनाव जीते लेकिन मुख्यमंत्री से मतभेद होने पर अब निर्दलीय विधायक हैं। उनके खिलाफ हत्या, अपहरण, फिरौती और शस्त्र कानून के तहत करीब डेढ़ दर्जन मामले दर्ज हैं।

शहाबुद्दीन जेल में है लेकिन हीना को उनके पिछले काम के आधार पर जीत का यकीन है। उन्होंने कहा, ‘‘साहब तो 15 साल से नहीं हैं। मुझे घर में हर वक्त उनकी कमी खलती है लेकिन जनता के प्यार को देखकर मुझे गर्व होता है कि मैं सीवान की बेटी और बहू हूं।“

पर्दे में रहने वाली घरेलू महिला हीना के लिये यह सफर आसान नहीं था। उन्होंने कहा, ‘‘मैं 2009 में पर्दे से निकलकर राजनीति में आई लेकिन खुलकर अपने विचार नहीं रख सकी। फिर 2014 में ठान कर आई कि हार से घबराना नहीं है और हारकर जीतने वाला ही सिकंदर होता है। मैं पिछले पांच साल में सीवान के लोगों के सुख दुख में साथ रही।’’

Top Stories