Thursday , December 14 2017

18000 और टीचर होंगे बहाल : वज़ीरे आला

दुमका : वज़ीरे आला रघुवर दास ने दुमका के गांधी मैदान में इतवार को जहां 600 करोड़ रुपये के सड़क तामीर की संसुबा का संगे बुनियाद किया, वहीं 310 करोड़ रुपये की लागत से बनीं 10 सड़कों का ऑनलाइन इफ्तिताह किया . इस मौके पर उन्होंने कहा कि ये सड़कें तरक्क्की का दरवाजा खोलेंगी. झारखंड में दूसरे रियासत से जोड़ने वाली सड़कें ही नहीं, एक जिले को दूसरे जिले से जोड़ने वाली और गांवों को हेड क्वार्टर से जोड़ने वाली अहम् सड़कों की तामीर मुसलसल हो रहा है.

इससे सड़कों के मामले में हम कौमी मेयार के करीब पहुंच गये हैं . यह हुकूमत की अहद को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि सालभर में 17 हजार टीचरों की बहाली हुई है. छह महीने में और 18 हजार टीचरों की बहाली होगी. यूनिवार्सिटी व कॉलेज में भी टीचर की कमी दूर की जायेगी. वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी जल्द ही साहिबगंज में गंगा पुल और बंदरगाह का इफ्तिताह करेंगे.

उन्होंने कहा कि अवाम से दूर होकर नहीं, बल्कि उनकी सरकार अवाम की हिस्सेदारी से उनकी आशाओं के मुताबिक बजट बनाने का काम किया है. दुमका को डेवलप किया जा रहा है. कई बदलाव दिख भी रहे हैं. शहर नये लुक में दिखेगा. सिबरेज-ड्रेनेज पर भी काम होगा. गांवों में मंसूबा बनाओ मुहीम में उन्होंने पंचायत आवामी नुमायंदों को भी हिस्सेदारी निभाने की दरख्वास्त की. उन्होंने इकहा कि पंचमित्रों के दल को सरकार देहि सेक्रेटरीएट का शक्ल देगी. हर पंचायत को मर्क़ज़ी सरकार एक से सवा करोड़ का फंड देगी. यह पैसा न रांची और न दुमका से बल्कि सीधे मर्क़ज़ से पंचायत को पहुंचेगा. प्रोग्राम में वजीर समाज बोह्बुद डॉ लोईस मरांडी, एमपी निशिकांत दूबे, सड़क तामीर महकमा की एडिशनल चीफ सेक्रेटरी राजबाला वर्मा, जरमुंडी के एमएलइ बादल, नगर कौंसिल सदर अमिता रक्षित, कमिश्नर एनके मिश्र, डीआइजी डीबी शर्मा, डीसी राहुल कुमार व एसपी विपुल शुक्ला वगैरह मौजूद थे.

 

TOPPOPULARRECENT