2जी घोटाले के सभी आरोपीयों को CBI की विशेष अदालत ने किया बरी

2जी घोटाले के सभी आरोपीयों को CBI की विशेष अदालत ने किया बरी

नई दिल्ली। आज आज़ाद भारत के सबसे बड़े घोटाले 2जी घोटाले के सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया है। CBI कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए पुर्व टेलिकॉम मंत्री ए राजा सहित डीएमके नेता कनिमोझी को इस घोटाले के आरोपों से मुक्त कर दिया है।

आज दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने यूपीए सरकार के दौरान हुए पौने दो लाख करोड़ के टूजी घोटाले पर फैसला सुनाया। इस घोटाले में कैबिनेट मंत्री रहे ए राजा समेत 24 लोगों पर आरोप थे।

ये घोटाला इतना बड़ा है कि इसे बयान करना मुश्किल हो जाता है। आज़ाद भारत के इस 17 खरब 60 अरब के घोटाले ने तत्कालीन यूपीए सरकार को हिला कर रख दिया था।

घोटाले से जुड़े मामलों पर विशेष रूप से विचार कर रही अदालत ने राजा, कनिमोझी और अन्य सभी आरोपियों को फैसले के लिए आज हाजिर रहने का निर्देश दिया था।

2010 में सीएजी की रिपोर्ट के बाद सामने आय़े इस घोटाले में तत्कालीन मनमोहन सरकार के मंत्री ए राजा, तत्कालीन यूपी सरकार को समर्थन दे रहे डीएमके की राज्यसभा सांसद कनिमोझी, तत्कालीन टेलीकॉम सेक्रेट्री सिद्धार्थ बेहरुआ और ए राजा के मंत्री रहते उनके निजी सचिव रहे आर के चंदोलिया समेत 24 आरोपी हैं। ये मुकदमा दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में चल रहा है।

Top Stories