Monday , June 25 2018

2 हजार के नकली नोटों का रैकेट उजागर

हैदराबाद 27 नवंबर: काले धन को बाहर लाने और नकली मुद्रा को बंद करने नोट बंदी के इकदाम को उस समय झटका लगा जब नई 2 हजार फर्जी मुद्रा को तैयार करने वाली एक टोली उजागर हुई। ऐसे समय जबकि प्रधानमंत्री हैदराबाद में थे रैकेट का पर्दाफाश होना उनके मिशन पर ज़रब तसव्वुर किया जा रहा है।

गुप्त सूचना पर रचाकुंडा पुलिस ने इस रैकेट को इब्राहीमपटनम क्षेत्र से पर्दाफाश करते हुए बड़ी मात्रा में नकली नोट और अन्य वस्तुओं को जब्त कर लिया। आयुक्त पुलिस महेश मुरलीधर भागवत ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान इस टोली को पेश किया। बताया जाता है कि पहले मार्किट में चिल्लर की कमी का फायदा उठाकर इस टोली 100 रुपये 50 रुपये 20 और 10 रुपये के नकली नोट तैयार करके मार्किट में फैल चुकी है। हालांकि नई 2000 मुद्रा नोट प्राप्त करने के बाद इस टोली ने बातचीत के जरिए समाधान और इब्राहीमपटनम में नोटों की छपाई शुरू कर दिया था और सफल तरीके में 2 हजार की नकली मुद्रा नोट तैयार कर लिए थे।

इंस्पेक्टर स्पेशल ऑपरेशन टीम नर्सिंग राव ने गुप्त सूचना पर जाल बिछाकर इस टोली को उजागर कर दिया और 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया जबकि 2 फरार बताए गए हैं। पुलिस ने 28 वर्षीय साई नाथ जो इस टोली का मूल सरगना है के अलावा 55 वर्षीय अनजया 34 वर्षीय रमेश 38 वर्षीय सत्यनारायना 26 वर्षीय श्रीधर और 25 वर्षीय विजय कुमार को गिरफ्तार कर लिया जबकि कल्याण और सुर्यकांत मफ़रूर बताए गए। पुलिस ने उनके पास से 2 लाख 22 हजार 310 रुपये की नकली मुद्रा 50 हजार नकदी, कलर ज़ीराक्स मशीनों को जब्त कर लिया।

TOPPOPULARRECENT