Tuesday , November 21 2017
Home / Crime / शर्मनाक: खाना चुराने के जुर्म में 8 और 9 साल के बच्चों के पहले कपड़े उतरवाए फिर मुंडन कर परेड कराई

शर्मनाक: खाना चुराने के जुर्म में 8 और 9 साल के बच्चों के पहले कपड़े उतरवाए फिर मुंडन कर परेड कराई

उल्हासनगर: मुंबई के पास उल्हासनगर में 8 और 9 साल के दो लड़कों को एक दुकान से खाने का सामान चुराने की सजा के तौर पर पहले कपड़े उतरवाया गया फिर चप्पलों की माला पहना पूरे इलाके में घुमाया गया।

हैरानी की बात यह है कि शर्मसार करने वाली इस घटना की गवाह भीड़ बनी लेकिन किसी ने भी इसके खिलाफ आवाज नहीं उठाई। दोनों लड़कों में से एक की मां की शिकायत पर हिल लाइन पुलिस ने बाद में 62 वर्षीय महमूद पठान और उनके दो बेटे इरफान और सलीम को गिरफ्तार किया।

इन तीनों पर भारतीय दंड संहिता की धारा 355, 500 और 323 के तहत मामला दर्ज किया गया है। तीनों पर प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन फ्रॉम सेक्शुअल ऐक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया गया है। तीनों को रविवार को कल्याण की एक कोर्ट के सामने पेश किया गया था जहां से उन्हें सोमवार तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

यह पूरा वाक्या उस वक्त हुआ जब दोनों लड़के उल्हासनगर के प्रेम नगर में अपने घर के पास खेल रहे थे। इस दौरान वे पास की मिठाई की दुकान पर गए और ‘चकलिस’ का एक पैकेट चुरा लिया। इस दुकान का मालिक महमूद है।

पुलिस ने बताया कि महमूद ने दोनों लड़कों को चोरी करते देख अपने बेटों को उन्हें सबक सिखाने के लिए कहा। इरफान और सलीम ने बच्चों को पकड़ा और उन्हें घसीट कर दुकान तक लाए। दोनों के सर को आधा मूंड़ दिया गया और फिर उन्हीं की चप्पलों को गले में पहना दिया। आखिर में बच्चों के पूरे कपड़े उतार दिए गए और सड़क पर परेड कराई गई।

सलीम ने अपने फोन में इस मामले को रिकॉर्ड किया तो वहीं इरफान दोनों बच्चों को थप्पड़ मारता रहा। यह वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

पुलिस ने बताया कि इन दोनों लड़कों में से एक की मां, जो घाटकोपर में किसी के यहां नौकरानी है, जो काम कर के घर लौटी तो वह अपने बच्चे की हालत देख हैरान रह गई। इसके बाद महिला ने दूसरे बच्चे के माता-पिता के साथ मिलकर पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

हिल लाइन स्टेशन के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर मोहन वाघमारे ने बताया, ‘शनिवार को देर रात हमारी टीम ने तीनों बाप-बेटों को गिरफ्तार किया और रविवार को हॉलिडे कोर्ट के सामने पेश किया गया, जहां से उन्हें एक दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।’

TOPPOPULARRECENT