Thursday , January 18 2018

IS के लिए फंड जुटाने के मामले में दो युवकों को 7 साल की कैद

/

नई दिल्ली: आतंकी संगठन आईएसआईएस के लिए फंड जुटाने और संगठन में शामिल होने के लिए लोगों को उकसाने के मामले में दोषी करार 2 लोगों को एक विशेष अदालत ने आज 7 साल कैद की सज़ा सुनाई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, सज़ा पाए शख्स का नाम अज़हर उल इस्लाम (24) और मोहम्मद फरहान शेख (25) बताया जा रहा है। अज़हर कश्मीर और फरहान महाराष्ट्र का रहने वाला है। दोनों पर दोष सिद्ध होने के एक महीने बाद जिला न्यायाधीश अमरनाथ ने उन्हें सज़ा सुनाई है।

अधिवक्ता एम एस खान के जरिए दी गई एक अपील में दोषियों ने कहा कि उन्हें अपने किए पर पछतावा है। इससे पहले उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है और वे मुख्यधारा में शामिल होकर समाज के लिए कुछ करना चाहते हैं।

याचिका में कहा गया कि आवेदनकर्ता बिना किसी दबाव, डर और किसी के प्रभाव में आए अपना दोष स्वीकार करते हैं।

बता दें कि एक और आरोपी हसन के खिलाफ ऐसा ही मामला इसी अदालत में अलग से चल रहा है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने पिछले वर्ष 28 जनवरी को तीन आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

जांच एजेंसी के मुताबिक हसन और शेख साल 2008 से 2012 के बीच रोजगार के सिलसिले में संयुक्त अरब अमीरात का बार-बार दौरा करते थे जबकि इस्लाम जुलाई 2015 में यूएई गया था।

हसन इससे पहले कथित तौर पर इंडियन मुजाहिदीन से जुड़ा था लेकिन बाद में आईएसआईएस की तरफ उसका झुकाव हो गया।

 

TOPPOPULARRECENT