Wednesday , December 13 2017

2003 कभी नहीं भूल सकती, बीजेपी से गठबंधन का सवाल ही नहीं- मायावती

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की राजनीति में मायावती को कभी दरकिनार नहीं किया जा सकता है। मायावती ने हिंदी न्यूज चैनल ‘आज तक’ से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा है कि वह कभी भी बीजेपी के साथ गठबंधन या मदद से सरकार नहीं बनाएंगी। मायावती ने कहा कि वह कभी नहीं भूल सकतीं कि 2003 में ताज कोरिडोर केस में बीजेपी ने उन्हें किस तरह टार्गेट किया था।

मायावती ने यह भी दावा किया कि वह चुनाव में बहुमत हासिल करेंगी, इसलिए किसी की मदद की जरूरत ही नहीं। करीब 40 मिनट के ऑफ कैमरा इंटरव्यू में मायावती ने कहा कि मुस्लिम वोटर्स ने इस बात को समझ लिया है कि उन्होंने 2014 के चुनाव में सपा को वोट देकर गलती, इसलिए वे अब बसपा को वोट देंगे।

मायावती ने यह भी कहा कि सपा के घर में लड़ाई चल रही है, इसलिए मुस्लिम अपने वोट को बर्बाद नहीं करना चाहेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का यूपी में कोई आधार नहीं है। मायावती ने कहा है कि सपा के शासनकाल में 400 दंगे के मामले सामने आए हैं, जबकि उनके मुख्यमंत्री रहते एक भी सांप्रदायिक हिंसा के मामले नहीं हुए।

TOPPOPULARRECENT