21 दिन बाद फिर NIA ने यूपी और पंजाब में आठ ठिकानों पर मारे छापे, 9 पकड़े गए

21 दिन बाद फिर NIA ने यूपी और पंजाब में आठ ठिकानों पर मारे छापे, 9 पकड़े गए

नई दिल्ली : आतंकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) के नए मॉड्यूल को लेकर राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने गुरुवार को एक बार फिर छापेमारी की है. इस बार एनआईए ने आईएसआईएस से प्रेरित एक समूह के खिलाफ अपनी जांच के संबंध में पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पंजाब में आठ स्थानों पर छापे मारे.

आरोप है कि यह समूह दिल्ली तथा उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में नेताओं और सरकारी प्रतिष्ठानों पर आत्मघाती हमले और सिलसिलेवार बम धमाके करने की योजना बना रहा था. एजेंसी ने पिछले साल 26 दिसंबर से लेकर अब तक इस संबंध में 12 लोगों को गिरफ्तार किया है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने 12 जनवरी को हापुड़ से मुहम्मद अबसार (24) को गिरफ्तार किया था, जिसके पांच दिन बाद ये छापे मारे गए.

एनआईए ने बताया कि वैश्विक आतंकवादी समूह आईएस के मॉड्यूल ‘हरकत उल हर्ब ए इस्लाम’ का कथित तौर पर हिस्सा होने के चलते गिरफ्तार किए गए लोगों से पूछताछ करने पर मिली सूचनाओं के आधार पर छापे मारे गए. एजेंसी ने पहले बताया था कि उसने स्थानीय रूप से बनाए रॉकेट लॉन्चर, आत्मघाती बेल्टों के सामान और टाइमर के तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले 112 अलार्म क्लॉक बरामद किए गए. इसके अलावा 25 किलोग्राम विस्फोटक सामग्री पोटेशियम नाइट्रेट, अमोनियम नाइट्रेट और सल्फर बरामद किया गया.
21 दिन बाद फिर NIA ने यूपी और पंजाब में आठ ठिकानों पर मारे छापे, 9 पकड़े गए 1
समूह ने रिमोट संचालित आईईडी बनाने के लिए कथित तौर पर रिमोट से संचालित कारें और वायरलेस डोरबेल खरीदी थीं. इसके अलावा एनआईए ने पहले छापों के दौरान स्टील के कंटेनर, इलेक्ट्रिक तारें, 91 मोबाइल फोन, 134 सिम कार्ड, तीन लैपटॉप, चाकू, तलवार, आईएस से संबंधित दस्तावेज भी बरामद किए.

ग़ौरतलब है कि इससे पहले बीते साल 26 दिसंबर को भी एनआईए ने इसी तरह देश के कई हिस्सों में छापे मारे थे. इस दौरान 12 लोगों को हिरासत में लिया था. ये सभी आईएसआईएस से प्रभावित और उसकी गतिविधियों में मददग़ार बताए गए थे. इनके पास से 112 अलार्म घड़ियां, 25 किलोग्राम विस्फ़ोटक, 91 मोबाइल, 134 सिम कार्ड, तीन लैपटॉप, चाकू, तलवार आदि बरामद हुए थे.

Top Stories