असम में भूस्खलन: 21 लोगों की मौत!

असम में भूस्खलन: 21 लोगों की मौत!

असम में मंगलवार को तीन अलग-अलग जगहों पर भूस्खलन से तीन बच्चों सहित कम से कम 21 लोगों की मौत हो गई है

 

नवजीवन पर छपी खबर के अनुसार, जिला प्रशासन के अधिकारियों के अनुसार, कछार और हैलाकांडी में सात-सात और करीमगंज में छह लोगों की भूस्खलन के कारण मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए हैं।

 

अधिकारियों ने कहा कि कछार जिले के जयापुर में, ताजिम उद्दीन लस्कर, उनकी तीन बेटियां और तीन बेटे मलबे में जिंदा दफन हो गए।

असम में भूस्खलन: 21 लोगों की मौत! 1असम में भूस्खलन: 21 लोगों की मौत! 2असम में भूस्खलन: 21 लोगों की मौत! 3

पुलिस ने ताजिम उद्दीन लस्कर की पत्नी और एक बेटे को वहां से जिंदा निकाला और सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया।

 

एक अन्य घटना हेलाकांडी जिले के अलगापुर में घटी, जहां दो परिवारों के सात लोगों की मौत हो गई, जिनमें चार महिलाएं और एक बच्चा भी शामिल है। तीसरी घटना करीमगंज जिले के कालीगंज क्षेत्र में घटी, जहां 6 लोगों की मौत हो गई, जिसमें 3 महिलाएं और दो बच्चे शामिल हैं।

 

असम राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल के कई दल, पुलिस और स्थानीय लोगों की मदद से शवों को बाहर निकाला गया, घायलों को तत्काल पास के अस्पताल ले जाया गया।

 

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने मौतों पर शोक व्यक्त करते हुए जिला प्रशासन से प्रभावित परिवारों की मदद के लिए सभी कदम उठाने के लिए कहा। उन्होंने अधिकारियों से पीड़ितों के परिवारों को वित्तीय सहायता को मंजूरी देने के लिए भी कहा।

 

इस घटना पर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनवाल ने ट्वीट कर दुख जातते हुए कहा, “बराक घाटी में लगातार बारिश से भूस्खलन के कारण हुए जानमाल के नुकसान पर गहरा दुख हुआ।

 

मैंने कछार, हैलाकांडी और करीमगंज जिला प्रशासन और एसडीआरएफ को निर्देश दिया है कि वे बचाव, राहत अभियान चलाएं और प्रभावित लोगों को हर संभव मदद की सुविधा प्रदान करें।”

Top Stories