Saturday , December 16 2017

2459 मुदर्रिस को मिले ग्रांट

अंजुमन तरक़्क़ी उर्दू बिहार के कोन्फ्रेंस हाल में 2459 मुदर्रिस को ग्रांट जारी करने के सिलसिले में कल्याण सिंह की एक हम मीटिंग अब्दुल कयुम अंसारी, सेक्रेटरी अंजुमन तरक़्क़ी उर्दू की सदारत में हुयी जिसमें पूरी रियासत से कसीर तादाद में

अंजुमन तरक़्क़ी उर्दू बिहार के कोन्फ्रेंस हाल में 2459 मुदर्रिस को ग्रांट जारी करने के सिलसिले में कल्याण सिंह की एक हम मीटिंग अब्दुल कयुम अंसारी, सेक्रेटरी अंजुमन तरक़्क़ी उर्दू की सदारत में हुयी जिसमें पूरी रियासत से कसीर तादाद में मुदर्रिस के ज़िम्मेदारान शरीक हुये।

इस में इत्तिफ़ाक़ राए से फैसले लिए गए। जांच किए गए मुदर्रिस को फौरन महकमा तालिम में भेजा जाये। महकमा तालीम से सरकार में भिजवाकर मंजूर कराया जाये। सकरारी अफसरों को ज़ाब्ता 1090 29-11-1980 की पाबंद करायी जाये। जिन मुदर्रिस की जांच अब तक नहीं हो सकी है, उसकी जांच मुकम्मील की जाये। 2459 मुदर्रिस के बाद जो नए मुदर्रिस मंजूर किए गए हैं या पुराने मुदर्रिस को अपग्रेड किया गया है उनको भी ग्रांट जारी किया जाए। जिन 205 मुदर्रिस को तंख्वाह की अदायगी मदरसा बोर्ड के जरिये की जा रही है उनको सीधे ज़िला तालीमी अफसर के जरिये तंख्वाह की अदायगी की जाए। उन लोगों ने कहा की इस तरह से असातिज़ा को फौरी तौर पर तंख्वाह अदायगी में सहूलत मिलेगी। इस मौके पर मौलाना मुखतार अमहद कासमी ने सेक्रेटरी रिपोर्ट पेश की और अपने मुतालिबात रखे।

TOPPOPULARRECENT