देश की 29 सीटें ऐसी जहां से मुस्लिम उम्मीदवारों को जीतने से कोई नहीं रोक सकता था!

देश की 29 सीटें ऐसी जहां से मुस्लिम उम्मीदवारों को जीतने से कोई नहीं रोक सकता था!

लोकसभा चुनाव 2019 के सभी नतीजे आ चुके हैं। इनके अनुसार, मोदी सरकार की एक बार फिर वापसी हो रही है। हालांकि एनडीए और बीजेपी की इस चमत्कारिक जीत की दिलचस्प बात ये रही कि बिहार, पश्चिम बंगाल और ओडिशा जैसे राज्यों में भी पार्टी का जनाधार काफी बढ़ा है।

इसका यह भी मतलब हुआ कि बीजेपी को उन लोकसभा क्षेत्रों में अप्रत्याशित सफलता हासिल हुई, जिनमें मुस्लिम आबादी अधिक है।
2011 की जनगणना के अनुसार, देश की 543 लोकसभा सीटों में से 29 सीटें ऐसी हैं, जहां मुस्लिम आबादी 40 प्रतिशत से अधिक है।

इन 29 में से 27 सीटें जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, केरल और पश्चिम बंगाल में आती हैं, जबकि दो अन्य सीटें लक्षदीप और तेलंगाना की हैदराबाद है।

यह बात किसी से छिपी नहीं है कि आजादी के बाद से लोकसभा में मुस्लिम सांसदों की भागीदारी लगातार घटी है। ऐसे में यह भी दिलचस्प तथ्य है कि 50 प्रतिशत से ज्यादा मुस्लिम सांसद इन्हीं 29 सीटों से चुनकर आते हैं। इस बार 29 मुस्लिम बाहुल्य सीटों में से 5 पर बीजेपी का कब्जा रहा।

आजादी के बाद से बीजेपी को इन 29 सीटों पर अधिक सफलता नहीं मिली थी, लेकिन 2014 और अब 2019 में हालात पूरी तरह बदल गए हैं। 2014 में पार्टी ने 29 में से सात सीटों पर कब्जा जमाया था। इनमें कोई भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं था।

इन सात में से पांच सीटें उसे उत्तर प्रदेश में मिली थीं, जहां बीजेपी ने कुल 80 में से 71 सीटें अपने नाम की थी। खास बात ये है कि कई जगह तो उसने कांग्रेस को भी पीछे छोड़ दिया। कांग्रेस ने तब इन 29 में से छह सीटें ही जीती थीं. बाकी की 16 सीटें अन्य दलों के हिस्से में गई थीं।

2019 के इस बार के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने ऐसी पांच सीटें जीतीं, जहां मुस्लिमों की आबादी 40 प्रतिशत से अधिक है। और इस बार भी जीते हुए उसके उम्मीदवारों में कोई भी मुस्लिम समुदाय से नहीं आता।

2014 के मुकाबले जिन दो सीटों का नुकसान बीजेपी को उठाना पड़ा, वह उत्तर प्रदेश से आती हैं, जहां सपा-बसपा गठबंधन ने उसे थोड़ा नुकसान पहुंचाया।

इसके अलावा देश की 19 लोकसभा सीट ऐसी हैं, जहां मुस्लिम आबादी 30 से 40 प्रतिशत है, जबकि 48 सीटों पर यह आंकड़ा 20 से 30 फीसदी का है। इन 67 सीटों में बीजेपी को उल्लेखनीय सफलता मिली है. 2014 में इन सीटों में 39 पर बीजेपी का परचम लहराया था। इस बार भी यहां इतनी ही सीटें बीजेपी के हिस्से में आई हैं।

साभार- न्यूज़18 हिन्दी डॉट कॉम

Top Stories