Monday , September 24 2018

2G अस्क़ाम पर जी पी सी रिपोर्ट

नई दिल्ली, 12 फबरव‌री (पी टी आई) 2G अस्क़ाम पर जी पी सी रिपोर्ट मुसव्वदा तैय्यार में ताख़ीर का इमकान है क्योंकि कलीदी हलीफ़ पार्टी डी एम के साबिक़ वज़ीर-ए-मवासलात ए राजा बहैसीयत गवाह तलब करने में पूछगिछ कर रही है। चाकू ने जे पी सी के इजलास क

नई दिल्ली, 12 फबरव‌री (पी टी आई) 2G अस्क़ाम पर जी पी सी रिपोर्ट मुसव्वदा तैय्यार में ताख़ीर का इमकान है क्योंकि कलीदी हलीफ़ पार्टी डी एम के साबिक़ वज़ीर-ए-मवासलात ए राजा बहैसीयत गवाह तलब करने में पूछगिछ कर रही है। चाकू ने जे पी सी के इजलास के बाद एक प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए कहा कि राजा को तलब किया जाना है तो वो आख़िरी गवाह होंगे चाहे डी ऐम उन्हें पूछने से इत्तेफ़ाक़ करें या ना करें।

आज भी गवाहों को जे पी सी के इजलास पर तलब करने का फ़ैसला किया गया इस के बाद कमेटी रिपोर्ट लिखने पर ध्यान देगी। डी एम ने दरख़ास्त किया कि राजा और सोयान टेलीकॉम के शाहिद बुलवा को तलब किया जाये। उन्होंने मुतालिबा किया कि अटार्नी जनरल वहन वाती फिर तलब किया जाये हालाँकि वो गवाही दे चुके हैं जिस में उन्होंने बहुत से मसाइल के बारे में ए राजा को क़सूरवार क़रार दिया था।

पिछ्ले हफ़्ते चाकू ने कहा कि सी बी आई और डी ओ टी की समाअत आज के इजलास में की गई कमेटी गवाहों से सबूत हासिल करने का अमल ख़त्म कर रही है और रिपोर्ट का मुसव्वदा तैय्यार करने पर ध्यान‌ दे रही है ताकि इसे 31 मार्च तक जारिया बजट सैशन के दौरान पार्लीमैंट में पेश कर दिया।

ज़राए के बमूजब चाकू ने अरकान से कहा कि मुल्ज़िम को क़ानूनी तहफ़्फ़ुज़ हासिल होता है वो किसी कमेटी पर ताज़ा इन्किशाफ़ नहीं कर सकता इस लिए बुलवा और राजा को फिर तलब करने का कोई मतलब नहीं है। मर्कज़ी वज़ीर फ़ैनानस पी चिदम़्बरम को गवाह तलब करने का अप्पोज़ीशन का मुतालिबा तस्लीम नहीं किया जा सकता क्योंकि कमेटी ने इस मक़सद के लिए मुत्तफ़िक़ा तौर पर तजवीज़ की मंज़ूरी ज़रूरी है। इस के बाद ही किसी बरसर ख़िदमत वज़ीर को तलब किया जा सकता है। यू पी ए इस मुतालिबा के मुख़ालिफ़ है इस लिए इत्तेफ़ाक़ राय ख़ारिज अज़इमकान है ।

TOPPOPULARRECENT