3 से 11 अगस्त तक दिल्ली में होगा द म्यूजिक थियेट्रिकल शो ‘उमराव जान अदा: द म्यूजिकल’

3 से 11 अगस्त तक दिल्ली में होगा द म्यूजिक थियेट्रिकल शो ‘उमराव जान अदा: द म्यूजिकल’

‘उमराव जान अदा: द म्यूजिकल’ का प्रेस सम्मेलन 24 जुलाई को राजधानी दिल्ली के द ललित होटल में आयोजित किया गया था। ग्रैविटी जीरो एंटरटेनमेंट द्वारा आयोजित इस शो का लाइव म्यूजिकल मंचन 3 अगस्त से 11 अगस्त तक राजधानी के जवाहरलाल नेहरू वेटलिफ्टिंग इंडोर स्टेडियम में होगा।

इस प्रमोशनल कार्यक्रम में उपस्थित टीम के सदस्यों में प्रमुख संगीत निर्देशक जोड़ी सलीम मर्चेंट और सुलेमान मर्चेंट शामिल थे। इनके अलावा इस शो के निर्देशक राजीव गोस्वामी के खाते में सबसे लंबे समय तक चलने वाले संगीत थिएटर ‘बियॉन्ड बॉलीवुड’ का प्रबंधन करने का श्रेय है। प्रख्यात गायिका प्रतिभा सिंह बघेल इस शो में उमराव जान अदा, जबकि टीवी अभिनेत्री कनिका माहेश्वरी खानम जान के किरदार को जीवंत करेंगी।

लाइव प्रदर्शन के साथ यह संगीतमय कार्यक्रम मिर्जा हादी रुसवा के क्लासिक उपन्यास ‘उमराव जान अदा’ का नाट्य रूपांतरण है, जो एक दरबारी उमराव जान के जीवन पर केंद्रित है। बॉलीवुड के मशहूर संगीतकार जोड़ी सलीम-सुलेमान मर्चेंट अपने संगीत के जादू से नाट्य रूपांतरण को चार चांद लगाएंगे, जबकि गीत इरफान सिद्दीकी द्वारा लिखे गए हैं। कहानी वरुण गौतम ने लिखी है। अभिनेत्री पूजा पंत ने कलाकारों को कोरियोग्राफ किया है। जबकि इस शो के भव्य सांगीतिक अनुभव के लिए ग्रैविटी ज़ीरो एंटरटेनमेंट ने प्रीमियर टिकटिंग और इवेंट अनुभव के लिए इनसाइडर और पेटीएम के साथ सहयोग किया है।

संगीतकार सलीम मर्चेंट ने नाटक के बारे में बताया, ‘जैसा कि उमराव जान अदा एक संगीत नाट्य है, जिसमें संगीत ही नाटक की रीढ़ है। हालांकि, नाटक एक पुस्तक का रूपांतरण है, जिसे मूल रूप से ‘उमराव जान अदा’ नाम दिया गया था।’ उन्होंने बताया कि ‘नाटक की कहानी में बहुत सारी परतें हैं और इन सारी परतों की अपनी विशिष्टता है।’

निर्देशक राजीव गोस्वामी ने नाटक की कहानी और इसकी अवधारणा के बारे में बताया, ‘यह अमीरन नामक एक छोटे शहर की लड़की की कहानी है और उसकी दुखद प्रेम कहानी है। हमने विश्व प्रसिद्ध कहानी को लाइव संगीत रूप में चित्रित करने की कोशिश की है। मुझे उम्मीद है कि सभी इसका आनंद लेंगे।’

बॉलीवुड सिंगर प्रतिभा सिंह बघेल ने नाटक में उमराव जान के रूप में मुख्य भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने कत्थक नृत्य पर वास्तव में कड़ी मेहनत की है, क्योंकि मैं पेशे से एक गायक हूं और मुझे क्लासिक उमराव जान की भूमिका के साथ न्याय करना था। इसका अद्भुत संगीत, जिसे मेरे लिए मंच पर लाइव गाना बहुत मुश्किल था, लेकिन मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास किया है।’

Top Stories