Sunday , February 25 2018

3 हफ्ते में गोरा करने के दावे वाले एड में अब सेलेब्रिटीज नहीं दिखेंगे!

भ्रामक और दर्शकों को गुमराह करने वाले विज्ञापन मामले में दोषी पाए जाने पर सेलेब्रिटीज को तीन साल तक के लिए प्रतिबंध का सामना करना पड़ सकता है। द इकनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक वित्तमंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में मंत्रियों के एक समूह ने यह फैसला लिया।

अखबार ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि इस मामले में पहली बार दोषी पाए जाने पर 10 लाख का जुर्माना और एक साल का प्रतिबंध लगाने की बात कही गई है। इसके बाद अपराध दोहराए जाने पर जुर्माने की राशि 50 लाख रुपए तक बढ़ाई जा सकती है और तीन साल तक के लिए प्रतिबंध लगाया जा सकता है। संसद की एक स्थाई समिति ने अपनी रिपोर्ट में ऐसे विज्ञापन करने पर मशहूर शख्सियतों को जवाबदेह बनाए जाने की सिफारिश की थी। समिति ने इस मामले में दोषी पाए जाने पर सख्त सजा का सुझाव दिया था।

भारत सरकार के नए सुझाव के तहत सेलेब्रिटी किसी भी विज्ञापन को करने से पहले इस बात पर गौर करना चाहिए इससे समाज पर क्या असर पड़ रहा है। उनकों इस बात का भी ख्याल रखना चाहिए कि दर्शकों को गुमराह करने के लिए कहीं उनकी छवि का गलत इस्तेमाल तो नहीं किया जा रहा है।

कंज्यूमर अफेयर मिनिस्टर राम विलास पासवान का इसपर कहना है कि किसी भी प्रोडक्ट का प्रचार करते वक्त सेलेब्रिटी इस बात का ख्याल रखे की इससे समाज में क्या संदेश जायेगा। अगर आप जनता को गुमराह करने वाला प्रचार करेंगे तो आप भी सजा के हकदार हैं।

आपको बता दे सरकार के इस फैसले के जद में कई ऐसे प्रोडक्ट आ जायेंगे जो दशकों से लोगों को गुमराह ही करते आये हैं। या कोई ऐसी ब्यूटी क्रीम जो 3 हफ्ते में गोरापन लाने का दावा करती हो या कोई ऐसा विज्ञापन जिसमें विशेष परफ्यूम लगाने से लड़कियों को इम्प्रेस होना दिखाया जाता हो।

TOPPOPULARRECENT