Monday , December 18 2017

3 हिंदूस्तानी आज़मीन-ए-हज्ज जांबाहक़

जद्दा। 9 अक्तूबर (एजैंसीज़) सऊदी अरब में हिंदूस्तान के तीन आज़मीन-ए-हज्ज जांबाहक़ हुए हैं। दो आज़मीन-ए-हज्ज कमेटी के ज़रीया सऊदी अरब पहूंचे थे, जबकि एक आज़िम ख़ानगी टूर ऑप्रेटर के ज़रीया फ़रीज़ा हज की सआदत हासिल कररहे थे। जद्दा में हिंदूस

जद्दा। 9 अक्तूबर (एजैंसीज़) सऊदी अरब में हिंदूस्तान के तीन आज़मीन-ए-हज्ज जांबाहक़ हुए हैं। दो आज़मीन-ए-हज्ज कमेटी के ज़रीया सऊदी अरब पहूंचे थे, जबकि एक आज़िम ख़ानगी टूर ऑप्रेटर के ज़रीया फ़रीज़ा हज की सआदत हासिल कररहे थे। जद्दा में हिंदूस्तानी कौंसिल जनरल ने बताया कि आज़मीन-ए-हज्ज को लाने वाले 11 तय्यारों के ज़रीया अब तक मक्का मुअज़्ज़मा को 1829 आज़मीन पहूंचे हैं माबक़ी आज़मीन मदीना मुनव्वरा में हैं। जांबाहक़ होने वाले आज़मीन-ए-हज्ज में से एक आज़िम की 70 साला फ़ारूक़ हुसैन फ़र्ज़ंद हाफ़िज़ अनवर हुसैन ख़ां की हैसियत से शनाख़्त की गई। वज़ारत-ए-ख़ारजा एक ओहदेदार ने बताया कि हम ने कौंसिल जनरल से रब्त रखे हुए हैं। हिंदूस्तान से ताल्लुक़ रखने वाले आज़मीन-ए-हज्ज की सलामती को यक़ीनी बनाने के लिए हर मुम्किना कोशिश कररहे हैं। हज इंतिज़ामात के ताल्लुक़ से नई दिल्ली में काबीना इजलास में ग़ौर-ओ-ख़ौज़ किया गया। काबीना ने कल ही हिंदूस्तान के 1.25 लाख आज़मीन-ए-हज्ज के लिए सब्सीडी का ऐलान किया है और उन के लिए फ़ी आज़िम हज 16 हज़ार रुपय फ़िज़ाई किराया मुक़र्रर किया है।

TOPPOPULARRECENT