Friday , July 20 2018

दंगों के 4 साल बाद जाट और मुसलमानों का समझौता कराने लिए नताओं से मिले मुलायम सिंह

फोटो- पत्रिका

मुजफ्फरनगर 2013 में हुए सांप्रदायिक दंगों काे चार साल पूरे होने के बाद भी कई प्रयासों के बावजूद दोनों समुदायों के दिलों में आई कड़वाहट दूर नहीं हो पा रही है।इसी को देखते हुए  जाट संरक्षण समिति ने एक बार फिर दोनों समुदायों के लोगों के साथ मिलकर दंगों के दौरान दर्ज हुए मुकदमों को आपसी समझौते के आधार पर खत्म कराने के प्रयास शुरू कर दिए हैं। इसके लिए मंगलवार को राष्ट्रीय जाट संरक्षण समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष विपिन सिंह बालियान ने कई खाप चौधरियों और मुस्लिम नेताओं के साथ मुलायम सिंह यादव के दिल्ली स्थित आवास पर बैठक आयोजित की। बैठक में कई ऐसे परिवार भी शामिल हुए, जिनके खिलाफ मुकदमे दर्ज हुए थे। बैठक में सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने खाप चौधरियों को भरोसा दिलाया कि समझौते से दंगों के दौरान हिंदू और मुस्लिमों के बीच आई कड़वाहट दूर हो सकती है। वह उनकी मदद करेंगे। हालांकि, उन्होंने याद दिलाया कि सरकार में रहते उन्होंने दोनों पक्षों की मदद की है। इसके लिए एक समिति का गठन किया गया है, जिसमें समिति में चुने गए लोग दोनों पक्षों के लोगों को आपस में बैठाकर समझौते का प्रयास करेंगे। वहीं, राष्ट्रीय जाट संरक्षण समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष विपिन सिंह बालियान ने कहा क‍ि दोनों बिरादरियों को मिलाने के लिए वे दिल्‍ली गए थे। 

TOPPOPULARRECENT