Saturday , December 16 2017

5 करोड़ अमरीकी ज़हनी मरीज़

कराची 23 जनवरी (ए एफ़ पी) हर पाँच में से एक अमरीकी ज़हनी मरीज़ है । पाँच करोड़ अमरीकी मुख़्तलिफ़ इक़साम की दिमाग़ी अमराज़ का मुबतला हैं,मर्दों की निसबत ख़वातीन ज़्यादा और पेचीदा दिमाग़ी बीमारीयों का शिकार हैं।बर्तानवी ख़बर रसां इ

कराची 23 जनवरी (ए एफ़ पी) हर पाँच में से एक अमरीकी ज़हनी मरीज़ है । पाँच करोड़ अमरीकी मुख़्तलिफ़ इक़साम की दिमाग़ी अमराज़ का मुबतला हैं,मर्दों की निसबत ख़वातीन ज़्यादा और पेचीदा दिमाग़ी बीमारीयों का शिकार हैं।बर्तानवी ख़बर रसां इदारे ने एक अमरीकी सरकारी रिपोर्ट के हवाले से लिखा है कि गुज़श्ता बरस 5करोड़(50 मिलयन)अमरीकी ज़हनी मरीज़ थे।

बच्चों और ख़वातीन समेत हर पाँच में से एक अमरीकी किसी ना किसी ज़हनी मर्ज़ का शिकार है । मर्दों की निसबत औरतों को एक से ज़ाइद दिमाग़ी बीमारीयों का सामना है। 23फ़ीसद ख़वातीन के मुक़ाबले में आठ ता सोला फ़ीसद मर्द इस आरिज़े का शिकार हैं। जबकि 50बरस से ज़ाइद उम्र के अफ़राद की बनिसबत 18 से 25 बरस की उम्र के लोगों में ये बीमारी दुगुनी शरह में है।

सर्वे में ये बात भी सामने आई कि एक करोड़ 14लाख अमरीकीयों में दिमाग़ी आरिज़ा शदीद नौईयत का है जिस में उनकी ज़िंदगीयां ख़तम हो सकती हैं ये शरह कल आबादी काफ़ी सद है।गुज़श्ता बरस7लाख अमरीकीयों मैं ख़ुदकुशी का रुजहान इंतिहाई शदीद नौईयत का है । 5लाख अमरीकीयों ने ख़ुदकुशी का मंसूबा बनाया

जब कि 11 लाख ने ख़ुदकुशी की कोशिश की।रिपोर्ट में कहा गया कि 12 से 7 बरस के 19 लाख नौउम्र अमरीकी मायूसी का शिकार हैं। ये रिपोर्ट अमरीका भर में 2 बरस से ज़ाइद उम्र के 6 लाख 5 हज़ार अफ़राद पर सर्वे के बाद मुरत्तिब की गई।

TOPPOPULARRECENT