Monday , January 22 2018

650 आज़मीन की हज्जे बैतुल्लाह के लिए रवानगी

रियास्ती हज कमेटी के 650 आज़मीन पर मुश्तमिल दो क़ाफ़िले आज हज्जे बैतुल्लाह की सआदत हासिल करने के लिए सऊदी अरब रवाना हुए। इस तरह रियास्ती हज कमेटी के जुमला 19 क़ाफ़िले सऊदी अरब के लिए रवाना हो चुके हैं और मजमूई तौर पर 5910 आज़मीने हज सऊदी

रियास्ती हज कमेटी के 650 आज़मीन पर मुश्तमिल दो क़ाफ़िले आज हज्जे बैतुल्लाह की सआदत हासिल करने के लिए सऊदी अरब रवाना हुए। इस तरह रियास्ती हज कमेटी के जुमला 19 क़ाफ़िले सऊदी अरब के लिए रवाना हो चुके हैं और मजमूई तौर पर 5910 आज़मीने हज सऊदी अरब रवाना हो गए। 18वां और 19वां क़ाफ़िला आज हज हाउज़ नामपल्ली से रवाना हुआ।

सऊदी एयरलाइंस की ख़ुसूसी परवाज़ों से ये क़ाफ़िले जद्दा के लिए रवाना हुए। आज सुबह 9 बजकर 5 मिनट पर पहले क़ाफ़िला ने शम्साबाद इंटरनैशनल एयरपोर्ट से उड़ान भरी। नमाज़े फ़ज्र के बाद इस क़ाफ़िला के आज़मीने हज, हज हाउज़ नामपल्ली से आर टी सी की ख़ुसूसी बसों के ज़रीया एयरपोर्ट के लिए रवाना हुए। साबिक़ सदर नशीन रियास्ती हज कमेटी ख़लील उद्दीन अहमद ने इस क़ाफ़िला को विदा किया।

18वीं क़ाफ़िला में 350 आज़मीन रवाना हुए हैं। 19वां क़ाफ़िला रात 10 बजकर 25मिनट पर रवाना हुआ। इस से क़ब्ल हज हाउज़ में रियास्ती वज़ीर बहबूदी पसमांदा तबक़ात बिस्वाराज सारिया और सदर नशीन वक़्फ़ बोर्ड मौलाना ग़ुलाम अफ़ज़ल ब्याबानी ख़ुसरो पाशा ने इस क़ाफ़िला के आज़मीन को विदा किया ।9वीं क़ाफ़िला में आज़मीन की तादाद 300 थी।

उन्हों ने आज़मीने हज के लिए किए गए इंतेज़ामात पर इतमीनान का इज़हार किया। बताया जाता है कि वज़ीरे क़ानून के असेंबली हल्क़ा से ताल्लुक़ रखने वाले बेशतर आज़मीन इस क़ाफ़िला में शामिल थे। स्पेशल ऑफीसर हज कमेटी प्रोफ़ैसर एस ए शकूर ने इन का इस्तक़बाल किया और तफ़सीलात से वाक़िफ़ कराया।

TOPPOPULARRECENT