Saturday , September 22 2018

8 वर्षीय बच्ची की रेप एंव हत्या मामले में आरोप तय करने से रोकने की कोशिश

जम्मू व कश्मीर: जम्मू के शहर कठुआ में हिन्दू एकता मंच से संबंध रखने वाले वकीलों ने निन्दात्मक हरकत करते हुए 8 वर्षीय मुस्लिम बच्ची की सामूहिक बलात्कार और हत्या के दिल दहला देने वाले घटना में लिप्त आरोपियों के खिलाफ सीआईडी को चीफ जुडीशियल मजिस्ट्रेट की अदालत में आरोप तय करने से रोक दिया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

गौरतलब है कि आसिफा को एक विशेष धर्म से संबंध रखने वाले 7 लोगों ने कई दिनों तक अपने कब्जे में रखा। जहाँ उस बच्ची को नशा देकर कई दिनों तक रेप किया गया। उन में से अधिकतर आरोपी रसूख वाले हैं।

जम्मू व कश्मीर पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आरोपियों की डीएनए जांच, फोरेंसिक साक्ष्य और पोस्ट मार्तं रिपोर्ट की आधार पर आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किया है। इस दहला देने वाले घटना के मंजरेआम पर आने के बाद राज्य जम्मू व कश्मीर में साम्प्रदायिक तनाव भी पैदा हो गई थी, इसलिए कठुआ के हिन्दुत्ववादी वकीलों ने गैर कानूनी कदम उठाते हुए आरोपियों के खिलाफ सीआईडी को आरोप तय करने से रोक दिया।

TOPPOPULARRECENT