सदर प्रणब मुखर्जी का बयान मौजूदा मुआशरे के लिए बेहद जरूरी :अब्दुल हमीद अंसारी

सदर प्रणब मुखर्जी का बयान मौजूदा मुआशरे के लिए बेहद जरूरी :अब्दुल हमीद अंसारी
Click for full image

images(2)
मैं इस वक्त दिल्ली में हूँ। आज सुबह जब हमने अखबारों पर नजर दौराया तो अखबार के एक कोने में देश के सदर जनाब प्रणब मुखर्जी का इतना बड़ा बयान बहुत छोटे से तफशिल में मिला।

जिस बयान को अखबारों का हेडलाइन बनना चाहिए था, वह अखबार के एक कोने में सिमटा हुआ मिला।

उर्दु अखबारों में हेडलाइन जरूर था। इसके अलावा यह मकाम शायद किसी ने नहीं दिया। शायद इसलिए क्योंकि यह बयान अकालियतो से जोड़ कर देखा जा रहा है। मगर मैं समझता हूं कि यह बयान तमाम मुआशरो के लिए बेहद जरूरी बयान है।

यह बयान मौजूदा हालात में सबसे बड़ा बयान हैं। इस वक्त यह बयान इस मुल्क के मुआशरे को मजबूत करने के लिए बेहद जरूरी बयान हैं।

यकीनन कुछ लोगों के गैर जिम्मेदाराना बयान और हरकतों से सदर जमहुरियत हिंदुस्तान को काफी चोट पहुंचाया होगा।
उन्होंने कहा कि अकालियतो के संवेदनाओं का ख्याल रखा जाना चाहिए।

मौजूदा हालात में जिस कदर मुसलमानों को निशाना बनाया जा रहा है, उस लिहाज़ से ये बयान एक सबक़है। उन्होंने कहा कि एक ऐसा माहौल बनाया जाये, जिससे सभी जाति और धर्म के लोग कौमी सोच का हिस्सा समझे।

सदर जमहुरिया हिंदुस्तान ने कहा कि मजहबी सोच से उपर उठकर तालीम याफता बनाना चाहिए। मै समझता हूँ कि ये बयान बहुत ही अच्छा और मुआशरे को मजबूत करने जैसा बयान हैं।

सबसे बड़ी बात यह है कि अकालियतो के हक और ज़ज्बात का कदर करना सिखना चाहिए और इस पर अमल करना चाहिए।

Top Stories