Tuesday , September 25 2018

वर्ष 2017 में हुई सबसे ज्यादा 822 सांप्रदायिक घटनाएं, 111 लोगों की हुई मौत

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने मंगलवार को लोकसभा में यह जानकारी देते हुए कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बताया है कि देश भर में पिछले साल 2017 में कुल 822 सांप्रदायिक घटनाएं हुईं जिनमें 111 लोगों की मौत हो गई और 2,384 लोग घायल हो गए।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर के अनुसार सबसे अधिक सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं उत्तर प्रदेश में हुईं। यहां 195 सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं में 44 लोगों की मौत हो गई, जबकि 542 लोग घायल हो गए। इसके बाद कर्नाटक का नंबर आता है, जहां 100 सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं हुईं, जहां 9 लोगों की मौत हो गई, जबकि 229 लोग घायल हो गए।

इसके अलावा नव भारत टाइम्स के मुताबिक, भाजपा शासित राज्य राजस्थान में भी दंगे की 91 घटनाएं हुईं है। इनमें 12 लोग मारे गए, जबकि 175 लोग घायल हो गए। मंत्री ने अपने बयान में बताया कि बिहार में साल भर में 85 सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं हुईं। जिसमे 3 लोगों की मौत हो गई, जबकि 321 लोग घायल हो गए। वहीँ मध्य प्रदेश में सांप्रदायिक हिंसा की 60 घटनाएं हुईं। जिसमे 9 लोगों की जानें चली गई और 191 घायल हो गए।

इसके अलावा लंबे समय से भाजपा शासित राज्य गुजरात में सांप्रदायिक झड़पों के 50 मामले सामने आए। जिसमें 8 लोगों की मौत हो गई और 125 घायल हो गए। पश्चिम बंगाल के भी कुछ इसी तरह के आंकड़े हैं जहां 58 दंगे हुए, जिनमें 9 लोगों की मौत हो गई और 230 लोग जख्मी हुए।

TOPPOPULARRECENT