शाहीन बाग पहुचे शशि थरूर, महिलाओं से बोलें- ‘आप शहर की शान है’

शाहीन बाग पहुचे शशि थरूर, महिलाओं से बोलें- ‘आप शहर की शान है’

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली के शाहीन बाग में लोगों का प्रदर्शन जारी है. रविवार रात यहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर पहुंचे. शशि थरूर धरना-प्रदर्शन कर रही महिलाओं को साहसी बताया. उन्होंने कहा ‘आप शहर की शान है, भारत देश की जान हैं.’  शाहीन बाग से निकलकर शशि थरूर मेट्रो से जेएनयू पहुंचे. यहां उन्होंने स्टूडेंट्स को संबोधित किया.

शाहीन बाग आने से पहले शशि थरूर जामिया यूनिवर्सिटी गए थे. जाम के कारण शशि थरूर अपनी कार छोड़कर पैदल ही यूनिवर्सिटी चले गए थे. जामिया यूनिवर्सिटी में अपने संबोधन में शशि थरूर ने कहा कि सीएए अलोकतांत्रिक और भेदभावपूर्ण है. यह भारतीय लोकतंत्र पर धब्बा है.

बता दें कि पिछले दिनों नागरिकता संशोधन को लेकर जामिया में हिंसा देखने को मिली थी. इस दौरान कई छात्र घायल हो गए थे. पुलिस को इस दौरान आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े थे.

एक महीने से चल रहा है प्रदर्शन

शाहीन बाग इलाके में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ करीब एक महीने से शांतिपूर्ण प्रदर्शन जारी है. प्रदर्शनकारी शाहीन बाग में बीच सड़क पर 24 घंटे धरना प्रदर्शन कर रहे हैं और सड़क से हटने के लिए तैयार नहीं हैं. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सरकार जब तक नागरिकता संशोधन कानून को वापस नहीं लेगी, हम सड़क से नहीं हटंगे और शांतिपूर्ण प्रदर्शन जारी रखेंगे.

खुद ही घर चले जाएं तो बेहतर हैः मीनाक्षी लेखी

इधर, बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा है कि शाहीन बाग के लोग खुद ही घर चले जाएं तो बेहतर है. मीनाक्षी लेखी ने कहा कि प्रदर्शन की वजह से शाहीन बाग के लोगों की परेशानी बढ़ रही है और वे नाराज हो रहे हैं. इसलिए अच्छा होगा कि प्रदर्शनकारी अब घर चले जाएं.

Top Stories